Lockdown in Delhi: कैट की मांग, 'दिल्ली में 15 दिनों का लॉकडाउन लगे'

कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स यानी कैट ने उपराज्यपाल, मुख्यमंत्री से दिल्ली में 15 दिन का लॉकडाउन लगाने की मांग की है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 18, 2021, 12:31 PM IST
  • राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन लगाने की मांग तेज
  • कैट ने उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
Lockdown in Delhi: कैट की मांग, 'दिल्ली में 15 दिनों का लॉकडाउन लगे'

नई दिल्ली: कोरोना (Corona) के बढ़ते कहर को देखते हुए कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने रविवार को दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को एक पत्र भेजकर दिल्ली में तुरंत 15 दिन का लॉकडाउन लगाने की मांग की है.

15 दिन का लॉकडाउन लगाने की मांग

कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (Confederation of All India Traders) ने लॉकडाउन की मांग करने के साथ ही दिल्ली के सभी बॉर्डर पर कोरोना की जांच के सख्त इंतजाम करने को कहा है ताकि कोरोना की बढ़ती दर पर अंकुश लगाया जा सके.

कैट ने कहा, 'इस कदम से निश्चित रूप से दिल्ली की व्यापारिक एवं आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होंगी, लेकिन अब जान को प्रथम वरीयता पर रखना होगा.'

कैट ने कहा, 'शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने स्वयं इस बात को स्वीकार किया है कि दिल्ली में बेड की कमी है और दवाइयां, ऑक्सीजन आदि की भी किल्लत है. सीएम का यही कहना पर्याप्त है की यदि जल्द कोई सख्त कदम नहीं उठाए गए तो स्तिथि के बेकाबू होने की सम्भावना है.'

पीएम मोदी और अमित शाह से भी आग्रह

दूसरी ओर कैट ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह से आग्रह किया है कि दिल्ली सहित देशभर के जिन राज्यों में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है उन सभी राज्यों में जिला स्तरों पर कोरोना से रोकथाम की पुख्ता योजना बनाई जाए.

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने यहां कहा, 'प्रस्तावित लॉकडाउन में दिल्ली में रहने वाले लोगों को आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई उनके घर तक पहुंचे इसके लिए दिल्ली के व्यापारिक संगठन पूरी तरह से तैयार हैं और हर संभव तरीके से सरकार की सहायता करने के लिए तत्पर हैं.'

इसे भी पढ़ें- Corona in UP: उत्तर प्रदेश आने वाले प्रवासियों को किया जाएगा क्वारंटीन

उन्होंने उपराजयपाल से आग्रह किया, 'यह समस्या केवल सरकार की नहीं है बल्कि दिल्ली के हर नागरिक की है और जरूरत इस बात की है कि पीपीपी मॉडल के आधार पर सरकार और जिम्मेदार नागरिक मिलकर सामूहिक रूप से इस महामारी का मुकाबला करने के लिए तैयार हों.'

इसे भी पढ़ें- India Corona Update: कोरोना की डरावनी रफ्तार, 24 घंटे में 2 लाख 61 हजार 500 नए केस

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़