• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 3,19,840 और अबतक कुल केस- 9,36,181: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 5,92,032 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 24,309 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 63.02% से बेहतर होकर 63.23% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 20,572 मरीज ठीक हुए
  • दुनिया भर के अन्य देशों की तुलना में भारत में प्रति दस लाख की जनसंख्या पर सबसे कम मामले और सबसे कम मौतें हुई हैं
  • कोरोना के कुल मामलों में 86% मामले दस राज्यों से हैं
  • देश में 2 स्वदेशी टीकों को इस महीने मानव परीक्षण का प्रारंभिक चरण शुरू करने की मंजूरी मिली
  • WHO द्वारा दिए गए व्यापक परीक्षण मार्गदर्शन के अनुसार 22 राज्य प्रति दिन कोविड-19 के 140 सैंपल प्रति 10 लाख टेस्टिंग कर रहे हैं
  • IIT दिल्ली द्वारा विकसित दुनिया की सबसे किफायती प्रोब फ्री RT-PCR आधारित कोविड-19 डायग्नोस्टिक किट आज लॉन्च की जाएगी
  • वंदे भारत मिशन: 650K से अधिक भारतीय स्वदेश लौटे और 80K से अधिक विदेश की यात्रा पर गए
  • कोविड मुक्त यात्रा सुनिश्चित करने के लिए भारतीय रेलवे पहला 'पोस्ट कोविड कोच' चलाने के लिए तैयार है

यूपी में कुछ इस तरह कोरोना से जूझ रही है योगी सरकार

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना के फैलने का खतरा ज्यादा है. ऐसे में योगी आदित्यनाथ की सरकार कमर कसकर तैयारी में जुट गई है.   

यूपी में कुछ इस तरह कोरोना से जूझ रही है योगी सरकार

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश मे कोरोना पॉजिटिव मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. अब तक यूपी में कोरोना प्रभावितों का आंकडा 50 के पार कर चुका हैं.

नोएडा में सबसे ज्यादा मामले
दिल्ली से सटे यूपी के नोएडा में 5 नए मामले सामने आए हैं. इसी तरह गौतमबुद्ध नगर में अब तक 23 मामले सामने आए हैं. कोरोना फैलने की वजह से यूपी की योगी सरकार ने 71 जेलों में बंद 11 हजार कैदियों को 8 महीने के पैरोल पर छोड़ने का फैसला किया है. ये राहत 7 साल से कम की सजा काट रहे कैदियों पर लागू होगी. 

मजदूरों की सुध लेने के लिए सड़क पर उतरे सीएम योगी
 बड़े पैमाने पर मजूदरों के पलायान को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ खुद सड़कों पर उतरे और हालात का जायजा लिया. सबसे पहले वे पीजीआई पहुंचे फिर महानगर कम्युनिटी किचन का जायजा लिया.

मजदूरों को उनकी मंजिल तक पहुंचाने के लिए लखनऊ के कैसरबाग, चारबाग और आलमबाग बस स्टैंड से उत्तर प्रदेश रोडवेज की बसों को लगाया गया है. 

जरुरतमंदों को पहुंचाया जा रहा है सामान
कोरोना वायरस को देखते हुए लॉकडाउन को लेकर भी योगी सरकार कई स्तरों पर काम कर रही है. लोगों को रोजमर्रा की दिक्कतों का सामना ना करना पड़े...इसके लिए खास तैयारी की गई है. 8833(8 हजार 8सौ तैंतीस) दुकानों और मॉल से सामान घरों तक पहुंचाया जा रहा है. इसी तरह दूध की कमी से निपटने के लिए 8 हजार 552 दुग्ध वाहनों को लगाया गया है. जो घर घर जाकर दूध पहुंचा रहे हैं. गरीबों तक खाना पहुंचाने के लिए 527 किचन दिन रात काम कर रहे हैं. जहां पर फूड पैकेट बनाए जा रहे हैं.