कोरोना वायरस: जनता कर्फ्यू की सफलता पर पीएम मोदी अपनी मां को किया याद

मां सभी के जीवन में विशेष स्थान रखती हैं. धरती पर जिस मां को असली देवता कहा गया है, उसी मां के एक बेटे के आग्रह पर पूरा देश कोरोना के रूप में मानवता पर आए संकट का मुकाबला करने के लिये घरों में बंद हो गया.  

कोरोना वायरस: जनता कर्फ्यू की सफलता पर पीएम मोदी अपनी मां को किया याद

दिल्ली: पूरे देश ने जनता कर्फ्यू का पालन करते हुए कोरोना वायरस के समूल नष्ट करने का संकल्प लिया. इसका परिचय सभी ने शंखनाद करके दिया. इसमें पीएम मोदी की मां भी शामिल रहीं. जब पूरा देश कोरोना वायरस के खिलाफ उन योद्धाओं को याद कर रहा था जो अपने घरों में नहीं बल्कि अस्पतालों में मरीजों का इलाज कर रहे हैं तब पीएम मोदी की मां हीराबेन भी थाली बजाकर उनका उत्साह वर्धन कर रही थीं. पीएम मोदी ने इसे सबसे बड़ा संबल बताया.

पीएम मोदी की मां हीराबेन ने भी बजाई थाली

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर उनकी बुजुर्ग मां हीराबेन ने भी गुजरात स्थित अपने घर में थाली बजाई. उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वे कुर्सी पर बैठकर थाली बजाती दिख रही हैं. 

अपनी 100 वर्षीय मां की सराहना में मोदी ने ट्वीट किया कि मां आप जैसी करोड़ों माताओं के आशीर्वाद से कोरोना से लड़ रहे डॉक्टर, नर्स, मेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी, सुरक्षाकर्मी और मीडियाकर्मी जैसे अनगिनत लोगों को बहुत प्रेरणा मिली है. आगे काम करने का संबल मिला.

पीएम मोदी बोले- लॉकडाउन का भी पालन करें

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से अपील करते हुए ट्वीट किया कि केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा जारी किए जा रहे निर्देशों का जरूर पालन करें, जिन जिलों और राज्यों में लॉकडाउन की घोषणा हुई है वहां घरों से बिल्कुल बाहर ना निकलें. इसके अलावा बाकी हिस्सों में भी जब तक बहुत जरूरी ना हो, तब तक घरों से बाहर ना निकलें.
 
सुबह से ही जनता कर्फ्यू सफल रहा

देश भर में सुबह से ही सबकी नज़रें सड़कों पर थीं चाहे वो न्यूज़ चैनल हों, आम लोग हों, देशप्रेमी हों या देशद्रोही - सबके जहन में जनता कर्फ्यू की संभावित सफलता एक सवाल बनी हुई थी. देश के देशद्रोही लोगों को जिस उम्मीद की चाहत थी, वो नाकाम ही रही. सुबह से ही सड़कें खाली रहीं जो रात नौ बजे तक वैसी ही खाली रहीं.