CAA की आड़ अफवाह फैलाने वालों पर दिल्ली पुलिस का शिकंजा

नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में दिल्ली में हिंसा फैलाने वालों की लंका लगने वाली है. दिल्ली पुलिस ने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का मूड बना लिया है. साथ ही पुलिस CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर ड्रोन से निगरानी रख रही है.

CAA की आड़ अफवाह फैलाने वालों पर दिल्ली पुलिस का शिकंजा

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली की सड़कों पर हुए हिंसक प्रदर्शन की जांच में दिल्ली पुलिस ने रफ्तार पकड़ ली है. पुलिस के सूत्रों ने कार्रवाई से जुड़ी कई अहम जानकारियां दी है. इसके अलावा आज भी जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों का प्रदर्शन देखने को मिला.

'असमाजिक तत्वों के खिलाफ होगी कार्रवाई'

दिल्ली पुलिस के सूत्र के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस ने अफवाह फैलाने वालों पर शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है. सूत्रों का कहना है कि दिल्ली पुलिस सोशल मीडिया पर झूठी और नकली जानकारी फैलाने वाले खातों के बारे में फेसबुक और ट्विटर के साथ मामला उठा रही है. और ऐसे खातों पर कार्रवाई करने की भी प्रक्रिया में हैं.

निगरानी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल

दिल्ली पुलिस के सूत्र ने बताया है कि दिल्ली में स्थिति नियंत्रण में है. जानकारी के अनुसार आज कोई हिंसा नहीं हुई. दो मामले दर्ज किए गए और कल 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया, 2 को आज गिरफ्तार किया गया. पुलिस द्वारा निगरानी के लिए विरोध प्रदर्शन के दौरान ड्रोन का इस्तेमाल किया गया. उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ हिस्सों में धारा 144 लगा दी गई है.

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को दिया CAA पर आग लगाने का जिम्मा

दरअसल, केंद्र सरकार के नए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध की आड़ लेकर पूरे देश को जलाने की साजिश रची गई. इसी क्रम में राजधानी दिल्ली के कई इलाकों से बवाल की तस्वीरें सामने आई. सीलमपुर-जाफराबाद इलाके में उपद्रवियों भारी उत्पात किया था. प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी की कई बसों में जमकर तोड़फोड़ की थी. यही नहीं दंगाइयों ने जाफराबाद इलाके में पुलिस की वैन में आग भी लगा दी थी. जिसके बाद पुलिस ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पुहंचाने के मामले में 6 लोग गिरफ्तार किया था.

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में हिंसा भड़काने की गहरी साजिश, पुलिस के तफ्तीश में खुल रही हैं परतें