दिल्ली NCR में भूकंप के तेज झटके, अफगानिस्तान का हिन्दुकुश रहा केंद्र

दिल्ली-एनसीआर समते पूरे उत्तर भारत में भूकंप के तेज झटके महसूस किये गये. इस भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान का हिन्दुकुश में था. जिसकी तीव्रता 6.3 मापी गई है. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 20, 2019, 06:00 PM IST
    1. दिल्ली एनसीआर में भूकंप के तेज झटके
    2. अफगानिस्तान का हिन्दुकुश में था केंद्र
    3. भूकंप की तीव्रता से 6.3 मापी गई
    4. पाकिस्तान में भी महसूस किये गये भूकंप
दिल्ली NCR में भूकंप के तेज झटके, अफगानिस्तान का हिन्दुकुश रहा केंद्र

नई दिल्ली: दिल्ली NCR समेत पूरे उत्तर भारत में भूकंप के तेज झटके महसूस किये गये हैं. इसके साथ ही पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भी झटके महसूस हुए हैं. फिलहाल अभी तक किसी तरह के हताहत की खबर नहीं है.

भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान

अफगानिस्तान में 6.3 तीव्रता से भूकंप के झटके महसूस किये गये हैं. जानकारी के अनुसार भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के हिन्दुकुश में था.

दिल्ली में भूकंप के तेज झटके

पूरे उत्तर भारत में भूकंप के तेज झटके महसूस किये गये, दिल्ली एनसीआर और आसपास के इलाकों में आए भूकंप के तेज झटके महसूस हुए.

पिछले कुछ सालों से भूकंप आने की घटनाओं में काफी हद तक तेजी आई है. दिल्ली-एनसीआर में कई बार भूकंप के झटके महसूस किये जा चुके हैं.

नेपाल में आया था तबाही का मंजर

भूकंप की बात करते ही नेपाल की यादें ताजा हो जाती है. नेपाल के लिए यह खतरनाक स्थिति होती है. पड़ोसी देश नेपाल अभी उठकर संभल ही रहा है. कुछ साल पहले ही 25 अप्रैल 2015 को नेपाल में आए भूकंप ने वहां भारी तबाही मचाई थी. उस वक्त भूकंप का केंद्र लामजुंग में था और इसकी तीव्रता 8.1 मापी गई थी. इस भूकंप में करीब 8000 लोगों की मौत हुई थी.

बीते 19 नवंबर को भी महसूस किये गये थे झटके

देश की राजधानी दिल्ली और एनसीआर के आसपास के इलाकों में बीते 19 नवंबर की शाम को भूकंप के झटके महसूस किये गये थे. जानकारी के मुताबिक उस दिन शाम 7 बजकर 1 मिनट पर आए झटकों से कुछ देर डर का माहौल बना हुआ था. हालांकि तीव्रता अधिक न होने के चलते हालात सामान्य रहा. उस वक्त भूकंप का केंद्र नेपाल में धारचुला के पास बताया गया था. जिसकी रिक्टर स्केल पर तीव्रता 5.1 मापी गई थी. 

इसे भी पढ़ें: गुजरात में भूकंपीय झटकों के 24 घंटे बाद दिल्ली-एनसीआर में कांपी धरती 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़