कोरोना वायरस पर कितनी सजग है भारत सरकार? जानिए पूरी सच्चाई

कोरोना वायरस के कहर से पूरी दुनिया थर्राई हुई है. वहीं भारत सरकार एक के बाद एक बड़े कदम उठा रही है. आपको इस रिपोर्ट के जरिए समझाते हैं कि देश की सरकार और राज्य सरकारें इस महामारी को लेकर कितनी सजग है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 14, 2020, 06:52 PM IST
    1. सभी विदेशियों के लिए भारत के वीज़ा रद्द
    2. विदेश से आ रहे लोगों की एयरपोर्ट, बंदरगाहों पर स्क्रीनिंग
    3. कोरोना संक्रमित, संदिग्धों के लिए आईसोलेशन कैंप बने
    4. देश भर में 30 हज़ार से अधिक संदिग्ध निगरानी में मौजूद
कोरोना वायरस पर कितनी सजग है भारत सरकार? जानिए पूरी सच्चाई

नई दिल्ली: लखनऊ में कोरोना से पीड़ित एक और मरीज अस्पताल में भर्ती हुआ है. मरीज के परिवार की महिला पहले से कोरोना से पीड़ित है. देश में वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 84 पहुंच गई है. कोरोना से बचाव को लेकर वैसे तो सरकार लगातार और हर दिन नये फैसले और ऐहतियातन कदम उठा रही है. लेकिन कोरोना से बचाव को लेकर केंद्र सरकार के बड़े फैसले क्या हैं, ये आपको बताते हैं.

कोरोना से बचाव के लिए कितनी सजग है सरकार?

आपको बताते हैं कि कोरोना ने कैसे ना केवल दुनिया के लिए बल्कि भारत के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी कर दी है. कोरोना की वजह से भारत में कुछ बड़े बड़े फैसले पहली बार लिए गए हैं और इससे ही आप समझ सकते हैं कि कोरोना को लेकर सरकार कितनी सजग हैं.

  • सभी विदेशियों के लिए भारत के वीज़ा रद्द
  • विदेश से आ रहे लोगों की एयरपोर्ट, बंदरगाहों पर स्क्रीनिंग
  • कोरोना संक्रमित, संदिग्धों के लिए आईसोलेशन कैंप बने
  • देश भर में 30 हज़ार से अधिक संदिग्ध निगरानी में मौजूद
  • कोरोना संक्रमण की जांच के देश भर में 107 लैब तैयार
  • राष्ट्रीय स्तर पर कोरोना जागरूकता अभियान जारी
  • कोरोना संक्रमित देशों में फंसे भारतीयों को मदद
  • ईरान में कोरोना की जांच के लिए लैब तैयार की गई
  • दैनिक स्तर पर राज्यों और मंत्रालयों से अपेडट
  • सेना में अगले एक महीने तक नई भर्ती पर रोक

पहली बार पर्यटकों के भारत में आने पर रोक लगा दी गई हैं वहीं मंत्रियों के विदेश दौरे रद्द कर दिए गए हैं. कई राज्यों में सिनेमा हॉल को बंद कर दिया गया हैं. जबकि IPL जैसे बड़े खेल आयोजनों को टाल दिया गया. वहीं करीब 10 राज्यों में स्कूल-कॉलेज को बंद कर दिया गया है. कोरोना से बचाव को देखते हुए कई देशों से जुड़े भारतीयों के बॉर्डर को सील कर दिया गया हैं. जिससे कि कोरोना संक्रमित कोई व्यक्ति भारत नहीं आ सके.

कोरोना से बचाव को लेकर अलग-अलग मंत्रालयों और राज्य सरकारों की तरफ से फैसले लिये गये हैं. अब कुछ दूसरे ऐसे ही फैसलों की जानकारी भी आपको दे देते हैं.

  • पीएम मोदी की 2 दिवसीय गुजरात यात्रा टली
  • हैदराबाद में CAA समिट में अमित शाह नहीं जाएंगे
  • स्वास्थ्य मंत्रालय के फॉर्मा कंपनियों को निर्देश
  • HIV/कैंसर दवाओं का उत्पादन बढ़ाने के आदेश
  • 11 से ज़्यादा राज्यों में शैक्षणिक संस्थान बंद
  • कई राज्यों में सिनेमा हॉल्स और मॉल्स बंद किये गए
  • दिल्ली में बड़े सार्वजनिक आयोजनों पर रोक
  • IPL समेत अन्य क्रिकेट मैचों के आयोजन पर रोक
  • ओडिशा में स्वीमिंग पूल, जिम ऐहतियातन बंद
  • 6 से ज़्यादा राज्यों में कोरोना महामारी घोषित
  • सभी राज्यों के मंत्रियों की विदेश यात्रा पर रोक
  • खिलाड़ियों के अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट्स में जाने पर रोक

कोरोना वायरस को किया राष्ट्रीय आपदा घोषित

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया. केंद्र सरकार कोरोना वायरस की वजह से जान गंवानेवाले शख्स के परिवार को 4 लाख रुपये सहायता राशि के रूप में देगी. कोरोना वायरस से निपटने के लिए राज्य सरकारें अब राज्य आपदा रेसपॉन्स फंड का इस्तेमाल कर सकेंगी.

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस पर 10 बेहद चिंताजनक तथ्यों को समझिए

कोरोना से बचाव ही फिलहाल इसका इकलौता समाधान है. अच्छा तो ये होगा कि आप घर से बाहर कम से कम निकलें. लेकिन अगर आपको घर से बाहर निकलना पड़ता है तो सावधान रहने में ही आपकी भलाई है. ऑफिस में सार्वजनिक स्थलों पर जाते हुए, पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सफर करते हुए. मोबाइल इस्तेमाल से लेकर लैपटॉप पर काम करते हुए आपको हर जगह सावधानी बरतने की ज़रूरत है.

इसे भी पढ़ें: ISIS के आतंकियों में कोरोना से दहशत

इसे भी पढ़ें: बॉलीवुड 'कोरोना पॉजिटिव', बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पर भी संक्रमण का असर

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़