नागरिकता कानून के खिलाफ पाकिस्तानी साजिश का खुलासा! पढ़ें: 10 बड़े अपडेट

दिल्ली में आग किसने लगाई और नागरिकता कानून के नाम पर देश के मुसलमानों को कौन डरा रहा है? कौन है जो मुसलमानों में ये डर पैदा कर रहा है कि नागरिकता कानून उन्हें देश से बेदखल कर देगा? इन सवालों के जवाब पूरा देश ढूंढ रहा है. तो क्या वो जवाब पाकिस्तान है?

नागरिकता कानून के खिलाफ पाकिस्तानी साजिश का खुलासा! पढ़ें: 10 बड़े अपडेट

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश को जलाने की खौफनाक साजिश रची जा रही है. CAA के विरोध की आग राजधानी दिल्ली तक पहुंच चुकी है. इस बीच पाकिस्तान की षड्यंत्र का भी खुलासा हुआ है. जिसके तहत उसका असल चेहरा एक बार फिर पूरी दुनिया के सामने आ चुका है.

नागरिकता कानून के खिलाफ बवाल पर 10 बड़े अपडेट

1- जामिया यूनिवर्सिटी के बाहर सुबह 9 बजे फिर छात्रों का प्रदर्शन
2- जामिया हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट में 12 बजे याचिकाओं पर सुनवाई
3- विपक्षी दलों का प्रतिनिधिमंडल शाम 4:30 बजे राष्ट्रपति से मिलेगा
4- असम में आज से कर्फ्यू पूरी तरह खत्म, इंटरनेट सर्विस भी बहाल
5- नागरिकता कानून के विरोध पर MHA की राज्यों को एडवायज़री
6- अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश
7- दिल्ली में सभी केंद्रीय मंत्रियों के घरों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई
8- यूपी में सभी DM-SSP को 7 दिन मुख्यालय नहीं छोड़ने के निर्देश
9- नागरिकता संशोधन क़ानून पर पाकिस्तान के दुष्प्रचार का खुलासा
10- पाकिस्तान में 5000 सोशल मीडिया एकाउंट्स झूठ फैलाने में सक्रिय

इस बीच दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्र आज फिर प्रदर्शन करने जा रहा हैं. इतने बवाल के बावजूद जामिया के छात्रों ने ये ऐलान किया है कि वो आज सुबह 9 बजे से प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने फिर सुरक्षा बंदोबस्त किये हैं.

15 लोगों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज

दिल्ली की जामिया हिंसा में 15 लोगों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज किया गया है. दिल्ली पुलिस ने हिंसा की जगह के CCTV फुटेज से की 15 लोगों की पहचान की है और दिल्ली के जामिया नगर और न्यू फ्रेंड्स थाने में FIR दर्ज की गई. आपको बता दें, CCTV से आरोपियों की शिनाख्त अभी भी जारी है, FIR में और नाम जोड़े जा सकते हैं.

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

जामिया मिलिया और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के मामलों में पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ 3 याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है. एक राहत की खबर असम से है, जहां सबसे पहले नागरिकता कानून का विरोध शुरू हुआ था. असम फिर से पटरी पर है, आज से कर्फ्यू खत्म हो गया है. यहां इंटरनेट सर्विस भी बहाल हो रही है. 

विपक्षी दलों के नेता आज शाम को राष्ट्रपति से मिलेंगे. साथ ही उनसे नागरिकता संशोधन कानून को रद्द करने की मांग करेंगे. राष्ट्रपति से कहेंगे कि इस कानून की वजह से ही देश में आग लग रही है. 

पाकिस्तानी साजिश का खुलासा

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पाकिस्तान की साजिश का खुलासा हुआ है. पाकिस्तान से चल रहे 5 हज़ार फर्जी सोशल एकाउंट्स का पता चला है. खुफिया एजेंसी का दावा है कि इन फर्जी सोशल एकाउंट्स से अफवाहें फैलाई जा रही हैं. ये फर्जी सोशल मीडिया एकाउंट्स ज्यादातर भारतीय नामों से बनाए गए हैं. जिसके जरिए भारत में मुसलमानों को गलत जानकारी देने की कोशिश की जा रही है.

इन सबके अलावा आपको उन 10 सवालों से रूबरू करवाते हैं, जिन्हें ज़ी मीडिया डंके की चोट पर पूछ रहा है. नीचे पढ़ें सवाल-

जामिया हिंसा पर ZEE मीडिया के 10 सवाल

1- प्रदर्शन के नाम पर हिंसा किसने भड़काई?
2- छात्रों के प्रदर्शन में नकाबपोश लोग कौन थे?
3- यात्रियों से भरी बस में आग किसने लगाई?
4- लाठी-डंडों के साथ छात्रों का प्रदर्शन क्यों?
5- पुलिस पर पत्थरबाजी करने वाले कौन थे?
6- पुलिस पर पेट्रोल बम से हमला किसने किया?
7- जामिया में दुकानों में तोड़फोड़ करने वाले कौन?
8- जामिया यूनिवर्सिटी में बाहरी लोग कैसे दाखिल?
9- जामिया यूनिवर्सिटी में 750 फर्जी  I-Card कैसे?
10- 'बांटो और दंगा कराओ' की राजनीति के पीछे कौन?

इसे भी पढ़ें: दरबारियों के साथ दिल्ली की आग में राजनीतिक रोटियां सेंकने उतरीं प्रियंका

हिन्दुस्तान को गुमराह करने की कोशिश करने वाले सावधान हो जाए, क्योंकि उनकी ये दुकान ज्यादा दिन तक नहीं चलने वाली है. नागरिकता कानून के खिलाफ बवाल का दौर आए दिन एक नए शहर को अपने आगोश में ले रहा है. इसकी शुरुआत असम से हुई, लेकिन राजधानी दिल्ली, लखनऊ और AMU में भी इसका तांडव देखने को मिल चुका है.

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में हिंसा फैलने के 4 प्रमुख कारण