दिल्ली में 96 साल की महिला ने घर पर रहते हुए जीती कोरोना के खिलाफ जंग

कोविड-19 महामारी की भयावह लहर के कारण चारों तरफ निराशा और हताशा के माहौल के बीच दिल्ली के शाहदरा में रहने वाली 96 साल की पुष्पा शर्मा ने इस जानलेवा वायरस को मात देकर अपनी जिजीविषा और जीवन के प्रति अपने सकारात्मक नजरिये की अनूठी मिसाल पेश की है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 14, 2021, 09:13 PM IST
  • 18 अप्रैल को पुष्पा पाई गई थीं कोरोना वायरस से संक्रमित.
    घर पर ही कराया इलाज और जीती कोरोना से जंग.
दिल्ली में 96 साल की महिला ने घर पर रहते हुए  जीती कोरोना के खिलाफ जंग

नई दिल्ली: कोविड-19 महामारी की भयावह लहर के कारण चारों तरफ निराशा और हताशा के माहौल के बीच दिल्ली के शाहदरा में रहने वाली 96 साल की पुष्पा शर्मा ने इस जानलेवा वायरस को मात देकर अपनी जिजीविषा और जीवन के प्रति अपने सकारात्मक नजरिये की अनूठी मिसाल पेश की है. कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बावजूद 96 साल की पुष्पा ने हिम्मत नहीं हारीं और उन्होंने अपने आत्मबल से इसके संक्रमण को हराया और ठीक हो गयीं.

पुष्पा की हिम्मत और साहस देखकर उनके पड़ोसी प्रफुल्लित हैं. पुष्पा अपने बेटे अरुण कुमार (67) और बहू मीना (64) के साथ राजधानी के नवीन शाहदरा में रहती हैं. पुष्पा 18 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गयी थीं. वह घर पर ही रहकर अपना इलाज करवा रहीं थीं. पुष्पा के पोते कुणाल (35) ने बताया कि नौ मई को की गयी जांच में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई और अब वह कोरोना से ठीक हो चुकी हैं.

कुणाल ने बताया कि परिवार के कई लोग भी कोरोना संक्रमित थे. पूरे परिवार के लिए पिछले करीब 15 दिन काफी चुनौतीपूर्ण रहे लेकिन चाई जी (पुष्पा) ने अपने जज्बे से इस जानलेवा वायरस को हरा दिया. कुणाल ने पीटीआई से कहा, " कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच उस समय दिल्ली के अस्पतालों की हालत बेहद खराब थी और संसाधन भी बहुत सीमित थे. इसलिए हमने उन्हें घर पर ही रखने का फैसला किया और डॉक्टरों की सलाह पर इलाज करवाया." 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़