UPSC Result: Ria Dabi की सफलता में बहन Tina Dabi के टिप्स आए काम, 12-13 घंटे करती थीं पढ़ाई

Ria Dabi Interview: UPSC पास करने के बाद रिया डाबी ने कहा, 'मुझे बहुत खुशी हो रही है. साथ ही अच्छा भी लग रहा है. मुझे उम्मीद थी कि मैं सफल होऊंगी, लेकिन टॉप रैंकर्स में शामिल होने का अंदाजा नहीं था.'

Written by - Shivam Pratap | Last Updated : Sep 25, 2021, 12:23 PM IST
  • यूपीएससी 2020 में रिया ने हासिल की 15वीं रैंक
  • उनकी बहन टीना डाबी ने 2015 में किया था टॉप
UPSC Result: Ria Dabi की सफलता में बहन Tina Dabi के टिप्स आए काम, 12-13 घंटे करती थीं पढ़ाई

नई दिल्लीः UPSC Result 2020: Ria Dabi Interview: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने शुक्रवार को सिविल सेवा परीक्षा 2020 (Civil Services Exam 2020) के नतीजे जारी किए. इसमें 2015 बैच की आईएएस टॉपर टीना डाबी (Tina Dabi) की छोटी बहन रिया डाबी (Ria Dabi) ने 15वीं रैंक हासिल की. अपनी सफलता से खुश रिया ने 'जी हिंदुस्तान' से बातचीत की. उन्होंने न सिर्फ अपनी सफलता के टिप्स साझा किए, बल्कि अपनी निजी जिंदगी के बारे में भी खुलकर बातचीत की. 

कॉलेज से शुरू कर दी थी तैयारी
रिया डाबी ने कहा, 'मुझे बहुत खुशी हो रही है. साथ ही अच्छा भी लग रहा है. मुझे उम्मीद थी कि मैं सफल होऊंगी, लेकिन टॉप रैंकर्स में शामिल होने का अंदाजा नहीं था.' 

उन्होंने कहा, 'मेरा मानना है कि यहां तक पहुंचने के लिए एक उम्मीदवार के लिए एक पूरी जर्नी होती है. स्कूल और कॉलेज से आपको तैयारी करनी होती है. मैंने कॉलेज से ही तैयारी शुरू कर दी थी, घर में पूरा माहौल मिला और एक खास स्ट्रेटजी के साथ मैंने पढ़ाई की और मैं सफल हुई. इसके लिए मैं अपने माता-पिता और बहन समेत सभी का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं. 

घरवालों ने दिया अच्छा माहौल
बकौल रिया, 'मुझ पर घर वालों ने कोई दबाव नहीं डाला, बल्कि मुझे अपनी बहन से गाइडेंस मिली, जिसने परीक्षा में सफल होने में बहुत मदद की.

मेरे परिवार ने सिर्फ इतना कहा कि अपना बेस्ट दो, बाकी फिक्र मत करो. मेरे परिवार ने मुझे बहुत अच्छा माहौल दिया. 

'दूसरों को देखकर न बदलें अपना तरीका'
रिया ने अपनी सफलता के पीछे कड़ी मेहनत, अनुशासन और धैर्य को सबसे बड़ी वजह बताया. उन्होंने कहा, 'मैंने कांस्टेंट शेड्यूल फॉलो किया. रोज 12 से 13 घंटे पढ़ाई करती थी. रिवीजन पर भी हमेशा फोकस किया.' उन्होंने अभ्यर्थियों को संदेश देते हुए कहा कि अपनी तैयारी अपने पर्सनेलिटी के हिसाब से करिए. दूसरों को देखकर अपना तरीका मत बदलिए.

पेंटिंग और इंडियन फोक आर्ट में है रुचि
पढ़ाई के बाद बचे समय में रिया पेंटिंग करती थीं. यह उनकी बचपन से हॉबी है. इंडियन फोक आर्ट में भी उनकी बेहद रुचि है.

वह अभी दिल्ली के कालीबाड़ी मार्ग की बीएसएनएल कॉलोनी में परिवार के साथ रहती हैं. उन्होंने बताया कि उनकी पढ़ाई जीसस एंड मेरी स्कूल दिल्ली से हुई. उन्होंने डीयू के लेडी श्रीराम कॉलेज से ग्रेजुएशन किया. रिया का सब्जेक्ट पॉलिटिकल साइंस था. उन्होंने कहा कि हर अभ्यर्थी को अपने हिसाब से सब्जेक्ट लेना चाहिए.

यह भी पढ़िएः पीएम ने UPSC पास करने वालों को दी बधाई, बाकी कैंडिडेट से कहा- आप भी बहुत प्रतिभाशाली

महिला सशक्तिकरण है मुख्य उद्देश्य
आगे की योजना पर रिया ने कहा कि उनका मुख्य लक्ष्य महिला सशक्तिकरण है. मैं देश सेवा में कुछ अलग करना चाहती हूं. वहीं, उन्होंने बताया कि कोरोना के कारण परीक्षा स्थगित होने से शुरूआत में कुछ निराशा हुई थी, लेकिन फिर अपनी तैयारी में समय का इस्तेमाल किया.

'प्रेरणा हैं मेरी बेटियां'
रिया की मां ने बताया कि उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है. उन्होंने कहा, 'मुझे लोगों ने कहा कि बच्चों को आर्ट क्यों दिला रही हो, लेकिन मैंने हमेशा बेटियों की इच्छा का सम्मान किया. अपने बच्चों पर मैंने कभी कुछ थोपा नहीं, बल्कि उन्हें अनुशासन, मेहनत करना सिखाया.' रिया के पिता ने कहा, 'मेरी बेटियां उन लोगों के लिए प्रेरणा हैं, जो जीवन भर बेटों के पीछे भागते रहते हैं. मेरी दोनों बेटियों ने पूरे देश में टॉप किया है.'

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़