पृथ्वी शॉ के तूफान में उड़े गेंदबाज, खेल डाली घरेलू क्रिकेट की सबसे बड़ी पारी

इंग्लैंड के खिलाफ चल रही सीरीज से बाहर किये गये सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने विजय हजारे ट्रॉफी में विश्व कीर्तिमान रच दिया.

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : Feb 26, 2021, 03:29 PM IST
  • पुडुचेरी के खिलाफ जड़ा शानदार दोहरा शतक
  • सहवाग, रोहित शर्मा को छोड़ा पीछे
  • पृथ्वी के नाम सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड
पृथ्वी शॉ के तूफान में उड़े गेंदबाज, खेल डाली घरेलू क्रिकेट की सबसे बड़ी पारी

जयपुर: एक तरफ भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट श्रृंखला में भारतीय खिलाड़ी लगातार इतिहास रच रहे हैं और वहीं दूसरी तरफ विजय हजारे ट्रॉफी में युवा खिलाड़ी अपना जौहर दिखा रहे हैं. इंग्लैंड के खिलाफ चल रही सीरीज से बाहर किये गये सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने विजय हजारे ट्रॉफी में विश्व कीर्तिमान रच दिया. 

पृथ्वी ने जयपुर में खेले गये इस मैच में 152 गेंदों पर नाबाद 227 रनों की जोरदार पारी खेली. अपनी विश्वस्तरीय पारी में उन्होंने 31 चौके और 5 छक्के जड़े. 

पुडुचेरी के खिलाफ जड़ा शानदार दोहरा शतक

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने मुंबई की ओर से खेलते हुए पुडुच्चेरी के खिलाफ शानदार दोहरा शतक लगाया. लिस्ट ए क्रिकेट में कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड अब शॉ के नाम दर्ज हो गया है. पृथ्वी शॉ का नाम कई दिग्गज खिलाडि़यों में शुमार हो गया. पृथ्वी शॉ विजय हजारे ट्रॉफी में मुंबई के लिये कप्तानी भी कर रहे हैं. कप्तानी करते हुए लिस्ट ए क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले वे भारतीय हो बल्लेबाज हो गये हैं.  

सहवाग, रोहित शर्मा को छोड़ा पीछे

गौरतलब है कि कप्तानी करते हुए एकदिवसीय मैच में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड अब पृथ्वी शॉ के नाम हो गया है. इससे पहले यह रिकॉर्ड ग्रीम पोलॉक के नाम दर्ज था, जिन्होंने ईस्ट लंदन में बॉर्डर के खिलाफ नॉटआउट 222 रनों की पारी खेली थी. पृथ्वी शॉ ने पुडुचेरी के खिलाफ नॉटआउट 227 रनों की पारी खेलकर यह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है. 

ये भी पढ़ें- India Vs England: अच्छी शुरुआत के बाद ढ़ेर हुई भारतीय टीम, 145 रन पर ऑलआउट

इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर वीरेंद्र सहवाग हैं, जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर में खेले गए वनडे इंटरनैशनल मैच में 219 रन बनाए थे. इसके बाद रोहित शर्मा का नंबर आता है. रोहित ने  श्रीलंका के खिलाफ मोहाली में खेले गए वनडे इंटरनैशनल मैच में उन्होंने कप्तान के तौर पर नॉटआउट 208 रन बनाए थे.

पृथ्वी के नाम सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड

आपको बता दें कि पृथ्वी शॉ ने इसके साथ ही विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे बड़े व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है, जो इससे पहले संजू सैमसन के नाम दर्ज था. सैमसन ने नॉटआउट 212 रनों की पारी खेली थी. शॉ से पहले सैमसन, यशस्वी जयसवाल और कौशल तीन ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में डबल सेंचुरी लगाई है. 

मुंबई ने 233 रन से हराया

उल्लेखनीय है कि विजय हजारे ट्रॉफी के इस मैच में पृथ्वी शॉ की धुआंधार बल्लेबाजी के दम पर पुडुच्चेरी को 233 रन से हराया. मुंबई के कप्तान शॉ ने 152 गेंदों पर 31 चौके और पांच छक्कों की मदद से यह पारी खेली. उन्होंने आदित्य तारे के साथ 153 रनों की साझेदारी निभाई, जबकि सूर्यकुमार यादव के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 201 रन जोड़े. तारे ने 56 और सूर्यकुमार ने 133 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली और मुंबई ने 50 ओवर में चार विकेट पर 457 रन बनाए थे. इसके बाद पूरी पुडुच्चेरी की टीम 224 रनों पर सिमट गई. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़