• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,01,497 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,07615: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,00,303 जबकि अबतक 5,815 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • रेलवे ने 4155 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया; 57+ लाख यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुँचाया गया
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री ने #AatmaNirbharBharat के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए 3 योजनाओं की शुरुआत की
  • #AatmaNirbharBharat के लिए #MakeInIndia को प्रोत्साहित करने के लिए DPIIT ने पब्लिक प्रोक्योरमेंट ऑर्डर, 2017 में संशोधन किया
  • एंटी-कोविड ​​ड्रग मॉलेक्यूल के फास्ट-ट्रैक विकास के लिए SERDB-DST ने IIT (BHU) वाराणसी में अनुसंधान के लिए सहयोग को मंजूरी दी
  • ट्राइफेड कोविड ​​-19 के कारण संकट में पड़े आदिवासी कारीगरों को हरसंभव सहायता प्रदान करेगी
  • पीएसए और डीएसटी ने संयुक्त रूप से राष्ट्रीय विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवाचार नीति 2020 के निर्माण की प्रक्रिया की शुरुआत की
  • कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने विभिन्न बागवानी फसलों के लिए 2019-20 का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी किए हैं
  • कोविड के लक्षण विकसित होने पर, घबराएं नहीं, तुरंत 1075 पर कॉल करें #IndiaFightsCorona #BreakTheStigma

कोरोना वायरस की काट है देसी काढ़ा

अगर हमारे इर्द-गिर्द कोरोना वायरस घूम रहा है, तो हमारे घर में ही उसे मारने के उपाय भी मौजूद हैं. जरूरत बस ये है कि हमारे पास उस उपाय की सही जानकारी होनी चाहिए.   

कोरोना वायरस की काट है देसी काढ़ा

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण भारत में फैलने के पहले से ही आयुष मंत्रालय लोगों को काढ़ा पीने की सलाह दे रहा है. आयुष मंत्रालय की सलाह है कि दिन में कम से कम एक बार काढ़ा पीने से हम काफी हद तक कोरोना वायरस की मार से बचे रहेंगे.


शरीर को कुदरती तौर पर मजबूत करता है काढ़ा
आयुष मंत्रालय ने लोगों को खुद काढ़ा तैयार बनाने की विधि है. दरअसल काढ़ा बनाने के लिए जिन सामग्रियों का इस्तेमाल करने की सलाह आयुष मंत्रालय ने दी है वो सभी हमारे शरीर को कुदरती तौर पर मजबूत बनाने का काम करते हैं. इन  चीजों से इम्यूनिटी यानी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनी रहती है. सबसे अच्छी बात ये है कि काढ़ा बनाने के लिए जरुरी वस्तुओं में से ज्यादातर चीजें हर घर की रसोई में आसानी से मिल जाती है.
इन चीजों से बनाएं काढ़ा
आप भी एक नजर डालिए कि काढ़े में किन चीजों का इस्तेमाल करने से कोरोना का नाश होगा- 
- तुलसी का पत्ता
- दालचीनी
- काली मिर्च
- सौंठ
- मुनक्का
- गुड़
- नींबू

इसके अलावा भारत के देसी नुस्खे जैसे तुलसी, अदरक, कालीमिर्च, दालचीनी, अजवाइन, गिलोय वगैरा का काढ़ा पीने से भी कोरोना का इलाज माना जा रहा है.


ये है काढ़ा बनाने की विधि
आयुष मंत्रालय द्वारा बताई गई विधि के मुताबिक ऐसे आपको काढ़ा बनाना है. घर में जितने लोग हैं उतना कप पानी ले लें और उसे चूल्हे पर उबालना शुरू करें. पानी जब गर्म हो जाए तो आंच धीमी करें और उसमें तुलसी पत्ता, दालचीनी, काली मिर्च, सौंठ, मुनक्का और गुड़ डाल दें. सभी सामग्रियों को डालने के बाद जब पानी खौलने लगे तो इसे छान लें और इसमें नींबू निचोड़ दें. इस काढ़े को दिन में अगर आप दो बार पी लें तो बहुत तगड़ा सुरक्षा कवच तैयार हो जाएगा. इस काढ़े को पीने से आप कोरोना समेत कई बीमारियों से आसानी से लड़ने में सक्षम हो जाएंगे.
आयुष मंत्रालय के इस नुस्खे को देखकर साफ मतलब निकाला जा सकता है कि प्रकति ने अगर कोरोना दिया है तो इसका समाधान भी प्रकृति में ही मौजूद है. जरुरत है तो केवल इंसान को मायूसी के दौर से बाहर निकलने की. क्योंकि चिंता और घबराहट बीमारी को बढ़ाने का काम करते हैं. चुनौती कितनी भी बड़ी हो उसका समाधान जरूर होता है. कोरोना वायरस की चुनौती से भी हमें इसी तरह खुद को योद्धा बनाकर निपटना होगा.