प्रदूषण के जहर के बदले जिंदगी बांटता है ये किसान

राजस्थान के एक किसान ने अनोखी मुहिम शुरु की है. जो कि पर्यावरण को बचाने के लिए है. वह प्लास्टिक की कचरे के बदले लोगों को पौधे बांट रहे हैं.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 25, 2019, 08:22 PM IST
    • कोटा के किसान की मुहिम
    • प्लास्टिक थैली के बदले बांटते हैं पौधे
    • प्लास्टिक प्रदूषण रोकने के लिए अनोखी मुहिम
प्रदूषण के जहर के बदले जिंदगी बांटता है ये किसान

कोटा: एक तरफ़ हम दिन रात सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग कर प्रकृति में ज़हर घोलने का काम करते है, वहीं कोटा का एक किसान ऐसा भी हे जिसने इसी जहर के बदले संजीवनी देने की ख़ास मुहिम चलाई है. 

निस्वार्थ भाव से चलाते हैं मुहिम
राजस्थान में कोटा के एक किसान ने बिना किसी स्वार्थ के प्रकृति की बचाने का बीड़ा उठाया है. जिसके लिए उन्होंने एक पॉलिथिन-एक पौधा की मुहिम चलाई है. हम जिस  सिंगल यूज प्लास्टिक को बेकार समझकर सड़क या कचरे में फेंक देते हैं. ओम प्रकाश नाम के ये पर्यावरण प्रेमी किसान उसे इकट्ठा करके उसके बदले एक पौधा देते हैं. 

प्रकृति को बचाने की है मुहिम 
एक पॉलिथिन दो और एक पौधा लो. प्रकृति को बचाने के लिए एक ख़ास पहल है. जिसे कोटा के किसान ओम प्रकाश ने शुरू की है.  उनकी ये कोशिश प्रकृति को बचाने के लिए बेहद जरुरी है. ओम प्रकाश लोगों से बेकार पॉलिथिन लेकर उन्हें पौधा देते हैं. 

पर्यावरण बचाने की दीवानगी
 ओम् प्रकाश की पर्यावरण बचाने को लेकर ये दीवानगी ही है कि वो हर एक पेड़ पौधे की क़ीमत न केवल समझते हैं,  बल्कि उसे लोगों को समझाते भी हैं. पिछले पंद्रह साल से ओम प्रकाश इसी तरह लोगों को हरियाली की जरुरत समझा रहे हैं. 

वो लोगों से आह्वान करते हैं कि सिंगल यूज प्लास्टिक को सड़क पर न फेंके, कचरे में न डालें,  उसे मुझे दे ओर मैं उसके बदले आपको एक पौधा दूंगा. 

ओम प्रकाश लोगों से जमा हुई इस तरह की पॉलिथिन में ही मिट्टी डालकर पौधा तैयार करते है.  जिन्हें वो लोगों को देते हे ताकि उस सिंगल यूज प्लास्टिक का न केवल सदुपयोग हो पाए.  बल्कि उससे होने वाले नुक़सान को रोक कर उसे फ़ायदे में बदला जा सके . 

किसान ओम प्रकाश कि ये पहल एक सकारात्मक संदेश देती है. इससे ना केवल सिंगल यूज प्लास्टिक से पर्यावरण को होने वाले नुक़सान को कम किया जा सकता है.  बल्कि उसके उपयोग के साथ पौधे लगाने के लिए भी लोगों को प्रेरित किया जा रहा है. 

ये भी पढ़ें- दुनिया में लगता जा रहा है प्लास्टिक का ढेर

ये भी पढ़ें- पर्यावरण संकट से जा रही हैं जानें

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़