नेपाल में अवैध रूप से घुसपैठ करने वाले 120 चीनी नागरिक गिरफ्तार

नेपाल पुलिस ने उन 120 नागरिकों को गिरफ्तार कर लिया है जो अवैध रूप से नेपाल में घुसपैठ करके रह रहे थे. पुलिस का कहना है कि इन लोगों ने कुछ दिनों पहले ही देश में अवैध रूप से घुसपैठ की है.

  नेपाल में अवैध रूप से घुसपैठ करने वाले 120 चीनी नागरिक गिरफ्तार

दिल्ली: नेपाल पुलिस ने कहा कि उसने वित्तीय अपराधों में शामिल होने के संदेह में 122 चीनी नागरिकों को हिरासत में लिया है. राजधानी काठमांडू में पुलिस प्रमुख उत्तम सुवेदी ने कहा कि यह पहला मौका है जब संदिग्ध आपराधिक गतिविधियों में इतने सारे विदेशियों को हिरासत में लिया गया है.

साइबर क्राइम में लिप्त रहे हैं ये लोग

गिरफ्तार चीनी नागरिकों पर आरोप है कि ये लोग साइबर क्राइम और एटीएम मशीनों को हैक करने जैसे कामों में लिप्त रहे हैं. पुलिस का कहना है कि पुलिस कार्रवाई के बारे में चीनी अधिकारियों को बता दिया गया है और उनके नागरिकों की आपराधिक गतिविधियों से निपटने में मदद की पेशकश भी की गई.

गिरफ्तार लोगों में 8 महिलाएं भी शामिल

नेपाल पुलिस ने बताया कि हिरासत में लिए गए लोगों में आठ महिलाएं भी शामिल हैं जो बाकायदा वीजा लेकर नेपाल में आई हैं. इन लोगों पर कई एटीएम मशीन हैक करने का आरोप है. एशियाई देशों में चीनी नागरिकों को अकसर गैरकानूनी गतिविधियों के आरोपों में गिरफ्तार किया जाता है. पिछले दिनों फिलीपींस में पुलिस ने 342 चीनियों को गिरफ्तार किया, जो बिना लाइसेंस जुए की गतिविधियां चला रहे थे. इससे पहले सितंबर में पांच चीनी नागरिकों को एटीएम हैक कर उससे पैसे चुराने के आरोपों में गिरफ्तार किया गया. सोने की तस्करी के मामले में भी चीनी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया था.

अक्टूबर में नेपाल गये थे चीनी राष्ट्रपति

अक्टूबर में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेपाल दौरे के समय दोनों देशों के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए जिसके तहत नेपाल और चीन आपराधिक मामलों पर एक दूसरे से सहयोग करेंगे. हाल के बरसों में चीन ने नेपाल में निवेश बढ़ाया है और वह वहां सड़कें, बिजलीघर और अस्पताल बना रहा है. नेपाल टूरिज्म बोर्ड का कहना है कि 2019 में जनवरी से अक्टूबर के बीच 1.34 लाख लोगों ने नेपाल का दौरा किया.

  क्लिक करें- ग्लोबल ट्रेड वार में चीन का नया पैंतरा