सूडान की फैक्ट्री में धमाका होने से 23 लोगों की मौत, 18 भारतीय भी शामिल

सूडान की राजधानी खार्तूम में मंगलवार को एक चीनी कारखाने में एलपीजी टैंकर में हुए धमाके में 23 लोगों की मौत हो गई और 130 से अधिक घायल हो गए. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इस घटना की पुष्टि की है. 

सूडान की फैक्ट्री में धमाका होने से 23 लोगों की मौत, 18 भारतीय भी शामिल

सूडान में भारतीय दूतावास ने हादसे की जानकारी देते हुए कहा कि खार्तूम की फैक्ट्री में हुए धमाके में कई भारतीय कामगारों की मौत हो गयी.  इसके बाद विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने पुष्टि करते हुए कहा कि मुझे अभी सलूमी स्थित एक फैक्ट्री में विस्फोट की जानकारी मिली है. इस हादसे में 18 भारतीयों की मौत हो गई है, जबकि कई अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

 

बढ़ सकती है मरने वालों की संख्या

सूडान के अधिकारियों ने कहा कि मरने वालों की संख्‍या बढ़ सकती है. सूडान सरकार का कहना है कि अनुचित तरीके से विस्‍फोटक सामग्री संग्रहीत की गई थी, जिसके कारण आग फैल गई. मौके पर मौजूद अधिकारियों ने बताया कि उत्‍तर खार्तूम के औद्योगिक जोन में टाइल निर्माण इकाई में विस्‍फोट के बाद काले धुएं का गुबार आसमान में छा गया.  इस धमाके के बाद सूडान के उद्योग और व्यापार मंत्री मदनी अब्बास और खार्तूम के गवर्नर मोहम्मद अब्देल-रहमीन और अन्य अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया.

बताया जा रहा है कि सलोमी फैक्ट्री में विस्फोट उस समय हुआ, जब वहां एक ईंधन का टैंकर गैस अनलोड कर रहा था. सेंट्रल कमेटी ऑफ सूडान डॉक्टर्स ने पीड़ितों की मदद के लिए सोशल मीडिया पर अपील की है. सूडान सरकार ने बताया कि अनुचित तरीके से विस्‍फोटक सामग्री संग्रहीत की गई थी, जिसके कारण आग फैल गई.