Fight against radical islam: कट्टरपंथियों के खिलाफ जंग में फ्रांस को महाकाल का आसरा

महाकाल के दरबार में आना पड़ा है फ्रांस को इस उम्मीद के साथ कि शिव भक्ति से मिलेगी फ़्रांस को शक्ति..

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 2, 2020, 05:25 PM IST
  • मंदिर समिति ने भेंट की महाकाल की तस्वीर
  • विधि-विधान से पूजन किया लेनिन ने
  • जानकारी सिर्फ पुलिस-प्रशासन को थी
Fight against radical islam: कट्टरपंथियों के खिलाफ जंग में फ्रांस को महाकाल का आसरा

नई दिल्ली.  फ़्रांस को भोले बाबा का आशीर्वाद चाहिए. ताकि वह कट्टरपन्थियो के खिलाफ अपनी जंग में जीत हासिल कर सके. इस उम्मीद के साथ ही महाकाल की शरण में आये हैं फ्रान्स के राजदूत इमैनुएल लेनिन. फ्रान्स के राजदूत ने जोड़े से अर्तात अपनी पत्नी के साथ उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन किए और वे रामघाट और शनि मंदिर भी गए.

मंदिर समिति ने भेंट की महाकाल की तस्वीर

फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन हाल ही में अपने निजी दौरे पर मध्यप्रदेश पहुंचे थे. इंदौर में रुक कर  लेनिन शनिवार सुबह पत्नी के साथ निकल पड़े उज्जैन में बाबा महाकालेश्वर के दर्शन करने. महाकाल की उज्जैन नगरी पहुंच कर उन्हों बाबा महाकाल के दर्शन भी किये और आशीर्वाद भी प्राप्त किया. इस दौरान मंदिर समिति ने लेनिन को बाबा महाकाल की तस्वीर भेंट की. इसके उपरांत लेनिन ने रामघाट और इंदौर रोड स्थित प्राचीन शनि मंदिर जा कर दर्शन किए. इसके बाद उन्होंने वापस इंदौर के लिये प्रस्थान किया. 

विधि-विधान से पूजन किया राजदूत ने 

फ्रान्सीसी राजदूत ने विधि-विधान पूर्वक पूजन किया और उसके उपरांत बाबा महाकाल का आशीर्वाद प्राप्त किया. चूंकि मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश बंद है इस कारण इमैनुअल लेनिन को नंदी हॉल से ही दर्शन लाभ प्राप्त करना पड़ा. दर्शन के समय मंदिर के पुजारी रमण त्रिवेदी ने लेनिन से पूजा- अर्चना संपन्न करवाई.

जानकारी सिर्फ पुलिस-प्रशासन को थी

सावधानी को दृष्टि में रख कर फ्रान्स के राजदूत के आगमन की जानकारी सिर्फ पुलिस-प्रशासन को थी. महाकाल मंदिर में दर्शन प्राप्त करने के बाद राजदूत ने सपत्नीक शनि मंदिर में भी दर्शन किये. इसके पश्चात पति-पत्नी ने शिप्रा नदी के तट पर पहुंच कर कुछ देर विश्राम किया. चूंकि दुनिया के कई मुस्लिम देश फ्रांस के खिलाफ कट्टरपन्थी विरोध में शामिल है इसलिये राजदूत की यात्रा को गुप्त रखना पड़ा था.

मंदिर हेतु फ्रांस सरकार देगी अस्सी करोड़

उज्जैन कलेक्टर आशिष सिंह ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि महाकाल मंदिर विकास के लिए फ्रांस सरकार देगी अस्सी करोड़ देने जा रही है जिसे मंदिर के विशेष निर्माण कार्य में व्यय किया जायेगा. जानकारी के अनुसार इस दान राशि को मंदिर का परिसर जितना बड़ा है उससे भी दस से बारह गुना बड़ा करने के निर्माण कार्य में लगाया जायेगा. 

ये भी पढ़ें. Boko Haram का एक और खूनी खेल - काटी एक सौ दस लोगों की गर्दनें

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐपजो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़