• भारत में कोरोना के अब तक 918 मामले सामने आए, अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है, 79 लोगों का सफल इलाज हुआ
  • कोरोना के सबसे ज्यादा मामले केरल और महाराष्ट्र में सामने आ रहे हैं, केरल में 167 और महाराष्ट्र में 186 लोग कोरोना प्रभावित
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के 6,61,367 मामले सामने आ चुके हैं
  • कोरोना वायरस के कारण विश्व में अब तक 30,671 लोगों की मौत हो चुकी है, जबिक 1,41,464 लोग बचाए जा चुके हैं
  • कर्नाटक में कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या 76 पहुंच गई है. पिछले 22 घंटे में 12 नए मामले सामने आए हैं
  • उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल 61 मामले, शनिवार को 11 मामले सामने आए जिसमें सबसे ज्यादा 9 मामले नोएडा में दिखे
  • महाराष्ट्र में कोराना वायरस के 9 नए मामले, मुंबई में 8 और नागपुर में 1 नया मरीज, कुल मामले 167 हुए
  • कोरोना वायरस से अबतक महाराष्ट्र में 5, गुजरात में 3, कर्नाटक में 2, मध्य प्रदेश में 2 लोगों की मौत हो चुकी है
  • तमिलनाडु, बिहार, पंजाब, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, कश्मीर और हिमाचल में एक-एक मौतें हो चुकी हैं.

अगर कोरोना साजिश तो सवालों के घेरे में डब्ल्यूएचओ

जिस तेजी से कोरोना ने चीन से उठ कर दुनिया को अपने शिकंजे में ले लिया उतनी ही तेजी से आज दुनिया भर में चीन का खलनायक चेहरा बेनकाब हो रहा है और कोरोना एक साजिश के तौर पर सामने आ रहा है. ऐसे में डब्ल्यूएचओ का चीन के समर्थन में होना उसके खिलाफ भी सवाल खड़े कर रहा है..

अगर कोरोना साजिश तो सवालों के घेरे में डब्ल्यूएचओ

नई दिल्ली: उलटा चोर कोतवाल को डाटे. चीन इस समय अमेरिका के खिलाफ मनोवैज्ञानिक युद्ध कर रहा है और कह रहा है कि चीन में और दुनिया में कोरोना संक्रमण को अमेरिका की सेना ने फैलाया है. लेकिन अब जो संकेत खुल कर सामने आ रहे हैं उसमें साफ़ तौर पर नज़र आ रहा है कि कोरोना चीन की एक सोची समझी साजिश हो सकती है जिसमें डब्ल्यूएचओ ने भी एक संदेहास्पद भूमिका निभाई है.

अमेरिका ने चीन को साजिशकर्ता माना

कोरोना के वैश्विक संकट के लिए अमेरिका ने साफ़ तौर पर चीन को कटघरे में खड़ा किया है. कुछ दिन पहले हुए ट्रम्प और शी जिनपिंग के बीच मौखिक विवाद से जाहिर हुआ था कि अमेरिका ने साफ़ तौर पर कोरोना को चीन की साजिश न मानने से इंकार कर दिया है. ट्रम्प ने कोरोना को चीनी वायरस कहा था जिस पर चीन के राष्ट्रपति ने आपत्ति जताई थी और पलटवार करते हुए कहा था कि ये अमेरिकी साजिश है जो चीन में अंजाम दी गई है.

ट्रम्प ने कहा डब्ल्यूएचओ है चीन की तरफ

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपरोक्ष रूप से चीन को कोरोना महामारी का प्रमुख साजिशकर्ता मानते हुए डब्ल्यूएचओ को उसमें भागीदार माना है.  ट्रम्प ने कहा कि कोरोना पर WHO ने चीन का साथ दिया है और दुनिया को सही वक्त पर इस महामारी के खिलाफ वार्निंग जारी नहीं की.

''चीन को बचाने की कोशिश की''

डोनाल्ड ट्रम्प ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को इस षडयंत्र में परोक्ष-अपरोक्ष रूप से भूमिका निभाने का जिम्मेदार ठहराया. अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चीन को बचाने की कोशिश की है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ हिंदुस्तान का ग्लोबल युद्ध! G-20 देशों ने की भारत की तारीफ

इस आरोप को आगे बढ़ाते ट्रम्प ने कहा कि अगर डब्ल्यूएचओ चीन का पक्ष न लेता तो दुनिया को  सही समय पर कोरोना की जानकारी मिल जाती. 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ युद्ध में मोदी सरकार का 'ब्रह्मास्त्र'! देश को सबसे बड़ा तोहफा

इसे भी पढ़ें: कोरोना को देंगे मात इकोनॉमी के लौटेंगे अच्छे दिन!