मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए नवाज शरीफ, पिता की मौत के समय भी निर्वासन में थे

एक जानकारी के मुताबिक नवाज़ शरीफ साल 2004 में अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हो पाए थे.

मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए नवाज शरीफ, पिता की मौत के समय भी निर्वासन में थे
फाइल फोटो

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) की मां का पिछले इतवार को लंदन में निधन हो गया. जिनको आज सुपुर्दे-खाक किया गया है. नवाज़ की मां की नमाजे जनाजे लाहौर में अदा की गई. इस दौरान शरीफ खानदान के लोगों के अलावा सियासी, समाजी शख्सियात ने बड़ी तादाद में शिरकत की लेकिन खुद नवाज़ शरीफ अपनी मां की नमाज़े जनाज़ा में शामिल नहीं हुए. बीबीसी के मुताबिक नवाज़ की मां की नमाजे जनाजा लंदन में भी अदा की गई थी. जिसमें नवाज़ शरीफ ने शिरकत की. 

एक जानकारी के मुताबिक नवाज़ शरीफ साल 2004 में अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हो पाए थे. डॉन ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ साल अक्टूबर 2004 में अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हो पाए थे. क्योंकि उस वक्त नवाज शरीफ जेद्दा में निर्वासन (मुल्कबदर) थे. 

मां के अंतिम संस्कार में शामिल होने को लेकर पाकिस्तान के गृह मंत्री ब्रिगेडियर रिटायर्ड एजाज़ शाह का कहना है कि नवाज शरीफ अपनी मां को दफनाने नहीं आए तो हमारे कहने पर कैसे आएंगे. मीडिया से बातचीत करते हुए नवाज़ शरीफ से संबंधित एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमारी सरकार नवाज शरीफ को वापस लाने की कोशिश कर रही है ताकि वो अपनी सजा पाकिस्तान में काटें लेकिन वो तो अपनी मां भी दफनाने नहीं आए तो हमारे कहने पर कैसे आएंगे.

बता दें कि नवाज़ शरीफ की मां शमीम अख्तर का पिछले इतवार लंदन में निधन हो गया था. वो करीब 2 महीने से बीमार चल रही थीं. वो इसी साल फरवरी महीने में लंदन गईं थी और वहा नवाज व अन्य परिवार वालों के साथ रह रही थीं. वो 91 बरस की थीं. 

Zee Salaam LIVE TV