close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस वित्तीय वर्ष में सरकार को डायरेक्ट टैक्स से अब तक 8.74 लाख करोड़ मिले

वित्त मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, 3.64 लाख करोड़ एडवांस टैक्स के रूप में वसूला गया है. 

इस वित्तीय वर्ष में सरकार को डायरेक्ट टैक्स से अब तक 8.74 लाख करोड़ मिले
टैक्स रिफंड के बाद नेट टैक्स कलेक्शन 7.43 लाख करोड़ है.

नई दिल्ली: वित्तीय वर्ष 2017-18 में अप्रैल से दिसंबर के बीच डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में 14.1 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. इस दौरान डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 8.74 लाख करोड़ रहा. इस दौरान टैक्स रिफंड करीब 1.30 लाख करोड़ रहा जो पिछले वित्तीय वर्ष में अप्रैल 2017 से दिसंबर 2017 के दौरान टैक्स रिफंड से करीब 17 फीसदी ज्यादा है. वित्त मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, इसमें से 3.64 लाख करोड़ एडवांस टैक्स के रूप में वसूला गया है. यह पिछले वित्तीय वर्ष में सेम टाइप पीरियड के दौरान वसूले गए टैक्स से करीब 14.5 फीसदी ज्यादा है.

टैक्स रिफंड के बाद नेट टैक्स कलेक्शन 7.43 लाख करोड़ है जो पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 13.6 फीसदी ज्यादा है. वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए सरकार ने एस्टीमेटेड डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 11.50 लाख करोड़ रखा है. 

मोदी सरकार में प्रत्यक्ष करदाताओं की संख्या दोगुनी होने की उम्मीद : जेटली

टैक्स रिफंड के बाद नेट कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन में 16 फीसदी और पर्सनल इनकम टैक्स में 14.8 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. बात अगर एडवांस कॉर्पोरेट टैक्स ग्रोथ की करें तो यह 12.5 फीसदी और एडवांस पर्सनल टैक्स ग्रोथ रेट 23.8 फीसदी है.