नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत का कार्यकाल 2 साल के लिए बढ़ाया गया

अमिताभ कांत का कार्यकाल 30 जून 2019 को खत्म हो रहा था. लेकिन, अब वे 30 जून 2021 तक अपने पद पर बने रहेंगे.

नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत का कार्यकाल 2 साल के लिए बढ़ाया गया
वे 17 फरवरी 2016 को नीति आयोग के CEO नियुक्त किए गए थे. (फाइल)

नई दिल्ली: नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत का कार्यकाल दो साल के लिए बढ़ा दिया गया है. यह जानकारी कार्मिक मंत्रालय की तरफ से दी गई है. उनका कार्यकाल 30 जून को समाप्त हो रहा है. कांत 1980 बैच के केरल कैडर के IAS अधिकारी हैं. वे 17 फरवरी 2016 को नीति आयोग के CEO बनाए गए थे. नियुक्ति के समय उन्हें दो साल के लिए रखा गया था. 2018 में अवधि पूरा होने के बाद कैबिनेट अप्वाइंटमेंट कमेटी ने उनका कार्यकाल 30 जून तक के लिए बढ़ा दिया था. अब उनका कार्यकाल 30 जून 2021 तक के लिए कर दिया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना- मेक इन इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, इंक्रेडिबल इंडिया और गॉड्स ऑन कंट्री जैसी योजनाओं के पीछे उनका बड़ा योगदान रहा है. टूरिज्म का विकास हो इसके लिए उन्होंने टैक्सी ड्राइवरों को अतिथि देवो भव का मंत्र दिया था.

नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत का बड़ा बयान, रोजगार के बिना इतनी विकास दर संभव नहीं

कांत ने दिल्ली विश्वविद्यालय के स्टीफन कॉलेज से इकोनॉमिक्स में ग्रैजुएशन किया है. मास्टर की पढ़ाई उन्होंने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) से की है.