उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद डिप्टी गवर्नर विश्वनाथन होंगे RBI के अंतरिम प्रमुख!

उर्जित पटेल द्वारा अचानक इस्तीफा देने के बाद विश्वनाथन को रिजर्व बैंक का अंतरिम प्रमुख नियुक्त किया जा सकता है.

उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद डिप्टी गवर्नर विश्वनाथन होंगे RBI के अंतरिम प्रमुख!
विश्वनाथन को अंतरिम प्रमुख बनाया जा सकता है. (फाइल फोटो- PTI)

मुंबई : भारतीय रिजर्व बैंक के वरिष्ठतम डिप्टी गवर्नर एनएस विश्वनाथन को अंतरिम रूप से केंद्रीय बैंक का प्रमुख बनाया जा सकता है. सूत्रों ने सोमवार को कहा कि गवर्नर उर्जित पटेल द्वारा अचानक इस्तीफा देने के बाद विश्वनाथन को रिजर्व बैंक का अंतरिम प्रमुख नियुक्त किया जा सकता है.

सूत्रों ने कहा कि यदि विश्वनाथन को अंतरिम प्रमुख बनाया जाता है तो वह शुक्रवार को होने वाली केंद्रीय बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता करेंगे. विश्वनाथन को चार जुलाई, 2016 को तीन साल के लिए रिजर्व बैंक का डिप्टी गवर्नर नियुक्त किया गया था.

उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद अब क्या होगा, कौन हो सकता है RBI का नया मुखिया

केंद्रीय बोर्ड की शुक्रवार को होने वाली बैठक इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है क्योंकि इसमें कामकाज के संचालन से जुड़े मुद्दे और उत्पादक क्षेत्रों विशेषरूप से सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उपक्रमों (एमएसएमई) को ऋण के प्रवाह पर चर्चा होगी. 

सूत्रों ने कहा कि रिजर्व बैंक जैसे महत्वपूर्ण संस्थान को ज्यादा समय तक बिना मुखिया के नहीं रखा जा सकता. ऐसे में सरकार जल्द पटेल की जगह नए गवर्नर की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करेगी. रिजर्व बैंक के अन्य तीन डिप्टी गवर्नरों में विरल आचार्य, बीपी कानूनगो तथा एम के जैन शामिल हैं.

RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवाला

आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल ने अपने इस्तीफे का कारण निजी बताया है. केंद्र सरकार और आरबीआई के बीच कुछ मसलों पर विवाद चल रहा था. हालांकि पिछले माह 19 नवंबर को आयोजित बोर्ड बैठक से पहले इसे निपटाने की बात कही गई थी.  

उर्जित ने 4 सितंबर, 2013 में आरबीआई गवर्नर का पद संभाला था. पिछले महीने उनके इस्तीफा देने की खबर आई थी लेकिन बाद में सब कुछ ठीक हो गया था. पटेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी पिछले माह मुलाकात की थी. दोनों के बीच इस विवाद को सुलझाने को लेकर एक फॉर्मूला भी तय हुआ था. इस फॉर्मूले के तहत आरबीआई से पैसे मांगने को लेकर केंद्र नरमी बरतेगा और दूसरी तरफ आरबीआई भी सरकार को कर्ज देने में थोड़ी ढिलाई बरतेगा.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.