अब ATM से एक दिन में निकाल पायेंगे 10000 रुपये, रिजर्व बैंक ने बढ़ाई लिमिट मगर साप्ताहिक निकासी सीमा जारी

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंक ग्राहकों को बड़ी राहत देते हुए एटीएम से दैनिक निकासी सीमा को आज दोगुने से भी अधिक कर 10,000 रुपये कर दिया। केंद्रीय बैंक ने हालांकि 24,000 रुपये की साप्ताहिक सीमा को बरकरार रखा है। इसके साथ ही रिजर्व बैंक ने चालू खाते से साप्ताहिक निकासी सीमा को 50,000 रुपये से बढाकर एक लाख रुपये कर दिया है। इस कदम से छोटे कारोबारियों को राहत मिलने की उम्मीद है।

अब ATM से एक दिन में निकाल पायेंगे 10000 रुपये, रिजर्व बैंक ने बढ़ाई लिमिट मगर साप्ताहिक निकासी सीमा जारी
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंक ग्राहकों को बड़ी राहत देते हुए एटीएम से दैनिक निकासी सीमा को आज दोगुने से भी अधिक कर 10,000 रुपये कर दिया। केंद्रीय बैंक ने हालांकि 24,000 रुपये की साप्ताहिक सीमा को बरकरार रखा है हालांकि बैंकरों का मानना है कि धीरे धीरे इसमें भी ढील दी जाएगी। इसके साथ ही रिजर्व बैंक ने चालू खाते से साप्ताहिक निकासी सीमा को 50,000 रुपये से बढाकर एक लाख रुपये कर दिया है। इस कदम से छोटे कारोबारियों को राहत मिलने की उम्मीद है।

केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में कहा है कि निकासी सीमा में यह बढोतरी तत्काल प्रभाव से लागू होगी।उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने एक जनवरी को एटीएम से निकासी सीमा को 2500 रुपये से बढाकर 4500 रपये प्रति दिन किया था।

केंद्रीय बैंक ने नौ नवंबर 2016 को घोषित नोटबंदी के तहत नकदी निकासी पर सीमा तय की थी। 50 दिन की नोटबंदी की सीमा 30 दिसंबर को समाप्त हो गई।बैंक आफ महाराष्ट्र के कार्यकारी निदेशक आर के गुप्ता के अनुसार रिजर्व बैंक का यह कदम इस बात का स्पष्ट संकेत है कि नकदी स्थिति सुधर रही है।

कैश लाजिस्टिक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रितुराज सिन्हा ने कहा,‘ एटीएम नकदी आपूर्ति लगभग सामान्य है। देश भर में हर दिन लगभग 8000 करोड़ रपये की नकदी भेजी जा रही है।’

नोटबंदी के 50 दिन पूरे होने के बाद आरबीआई ने एटीएम से डेली कैश निकालने की सीमा बढ़ाकर 4500 रुपये कर दिया था। 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान करने के बाद पीएम मोदी से एटीएम से डेली कैश निकालने की लिमिट भी तय की थी जिसे पहले 2 हजार और कुछ दिन बाद 2500 रुपये किया गया था।

नए नोटों की सप्लाई कम होने और मांग अधिक होने के चलते नकदी का संकट पैदा हुआ और सरकार ने इस संकट से निपटने के लिए नकदी सीमा के लिए अपर लिमिट निर्धारित कर दी थी।

 करीब सवा दो महीने बाद अब कैश निकालने के लिए एटीएम के बाहर की भीड़ में हल्का फर्क देखा जा रहा है। नकदी निकासी की सीमा भी बढ़ाई जा चुकी है।

अब रिजर्व बैंक ने एटीएम से नकदी निकासी की वर्तमान सीमा में भी वृद्धि कर दी है साथ ही अब चालू खाते से प्रति सप्ताह 1 लाख रुपये की रकम निकाली जा सकेगी। इससे पहले चालू खाते से 1 हफ्ते में 50,000 रुपये की रकम निकालने की सीमा तय की गई थी।