close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: गौतम गंभीर ने विदेशी टीम को बताया अपनी फेवरेट, भारत को रखा दूसरे नंबर पर

गौतम गंभीर ने इस विदेशी टीम को वर्ल्ड कप के लिए अपनी पहली पसंद बताया है.

World Cup 2019: गौतम गंभीर ने विदेशी टीम को बताया अपनी फेवरेट, भारत को रखा दूसरे नंबर पर
क्रिकेट से राजनीति में आए बीजेपी के लोकसभा उम्मीदवार गौतम गंभीर. (फोटो साभार: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: वर्ल्ड कप 2011 में टीम इंडिया की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने वर्ल्ड कप (World Cup 2019) के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम को अपनी पहली पसंद बताया है. उनका कहना है कि ऑस्ट्रेलिया को निश्चित रूप से वर्ल्ड कप का फाइनल खेलना चाहिए. गंभीर के अनुसार ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला फाइनल में उनकी दो दूसरी पसंदीदा टीमों इंग्लैंड या भारत से होगा.

क्रिकेट से राजनीति में आए बीजेपी के लोकसभा उम्मीदवार गौतम गंभीर ने साफ किया है कि इंग्लैंड टीम उनकी दूसरी पसंद इसलिए नहीं है कि वह घर में खेल रही है बल्कि उसके पास सभी पोजिशन के क्रिकेटर भी हैं. वह संतुलित टीम है. गौतम के मुताबिक जोफ्रा आर्चर उनकी टीम में महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. इसके साथ इंग्लैंड के पास बेन स्टोक्स और मोईन अली जैसे ऑलराउंडर्स भी हैं.

रोहित और विराट पर स्कोर का दारोमदार
'टाइम्स ऑफ इंडिया' को दिए एक इंटरव्यू में गंभीर ने भारतीय टीम को लेकर कहा, ''जहां तक भारत की बल्लेबाजी की बात है तो रोहित शर्मा और विराट कोहली को भारी स्कोर बनाना होगा. गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह एक्स-फैक्टर होंगे. यह एक बहुत ही रोचक विश्व कप होना चाहिए और कम से कम 6 देशों के बीच कड़ा मुकाबला होगा. इस विश्व कप में हर टीम को एक-दूसरे के साथ खेलना होगा. सभी मैचों के लिए टीमों को हमेशा तैयार रहना होगा. ग्रुप लीग के किसी भी मैच में कोई भी टीम आराम नहीं कर सकती.''

ICC World Cup 2019: गौतम गंभीर ने भारत की वर्ल्ड कप टीम में बताई एक कमी, आप भी जानिए

वेस्टइंडीज दावेदार रहेगा या नहीं?
वेस्टइंडीज वर्ल्ड कप ट्रॉफी का दावेदार रहेगा या नहीं? इसके जवाब में गौतम गंभीर ने कहते हैं, ''क्योंकि वेस्टइंडीज के कुछ क्रिकेटरों ने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है, इसलिए उनकी चर्चा हो रही है. लेकिन मुझे लगता है कि 50 ओवर के खेल में यह अलग होगा. उनके पास अच्छे स्पिनर नहीं हैं. मैं बहुत आश्वस्त नहीं हूं कि केवल तेज गेंदबाज ही आपको कप दिला सकते हैं.

शतक न बना पाने का मलाल है?
जब उनसे पूछा गया कि वर्ल्ड कप 2011 में आपको शतक न बना पाने का मलाल है? जवाब में गंभीर ने कहा, ''हर्गिज नहीं. हमारा उद्देश्य विश्व कप जीतना था और मैं बड़ा योगदान देना चाहता था और वो मैंने दिया. किसी छोटे स्कोर की तुलना में 97 रन बेहतर होते हैं. आज भी मुझे उन तीन रनों को न बना पाने का कोई अफसोस नहीं है. पता हो कि गंभीर ने फाइनल मुकाबले में 97 रनों की पारी खेली थी.