close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019 : विराट की गेंदबाजी पर बोले न्यूजीलैंड के कप्तान, 'अब वह बॉलिंग...'

विलियमसन और कोहली दोनों 2008 के अंडर-19 विश्वकप में अपने देशों का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. उस मैच में विराट कोहली ने विलियमसन को आउट किया था.

World Cup 2019 : विराट की गेंदबाजी पर बोले न्यूजीलैंड के कप्तान, 'अब वह बॉलिंग...'
भारत और न्यूजीलैंड की टीमें मंगलवार को पहले सेमीफाइनल मुकाबले में आमने-सामने होंगी.

मैनचेस्टर: भारत और न्यूजीलैंड की टीमें मंगलवार को पहले सेमीफाइनल मुकाबले में आमने-सामने होंगी. मैच से पहले पूर्व संध्या पर कीवी कप्तान केन विलियमसन ने भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली की तारीफ की. विलियमसन ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वह विराट कोहली को लंबे अर्से से जानते हैं. न्यूजीलैंड के कप्तान ने कहा, "कोहली U-19 विश्वकप में भी साहसिक थे. हमारा कई मौकों पर सामना हुआ है. कोहली को इतना बड़ा खिलाड़ी बनते देखना बहुत अच्छा लग रहा है." 

गौरतलब है कि विलियमसन और कोहली दोनों 2008 के अंडर-19 विश्वकप में अपने देशों का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. दोनों टीमों के बीच यह मैच 27 फरवरी 2008 को मलेशिया के क्वालालंपुर शहर में हुआ था. इसम मैच में टीम इंडिया की जीत हुई थी. उस मैच में विराट कोहली ने विलियमसन को आउट किया था. हालांकि प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कोहली पर टिप्पणी करते हुए कहा, "मैंने इस बारे में सोचा नहीं. विराट तब ऑलराउंडर हुआ करता था. अब वह बॉलिंग नहीं करता."  

यह भी पढ़ें: INDvsNZ, World Cup 2019: विराट ने कहा- मैं भी खतरनाक गेंदबाज हूं, अगर पिच पर...

कीवी कप्तान ने रोहित की खूब तारीफ की. उन्होंने कहा, "रोहित ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया है. नि:संदेश, उनका इस विश्वकप में प्रदर्शन लाजवाब है." रोहित ने इस विश्वकप में अब तक पांच शतक के जरिये 647 रन बनाए हैं. 

न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण बहुत शानदार है. विलियमसन का मानना है कि गेंदबाजी आक्रमण इस विश्व कप में आसानी से पिच की कंडीशन के अनुरूप हो गया है. हालांकि भारतीय गेंदबाजी से वह थोड़ा चिंतित नजर आए. उन्होंने कहा, "हमारा गेंदबाज बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं. हम सेमीफाइनल में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे लेकिन भारतीय टीम का गेंदबाजी आक्रमण भी जबर्दस्त है. भारतीय टीम एक संतुलित टीम है."

गौरतलब है कि भारत ने टॉप पर रहते हुए लीग स्तर का समापन किया है जबकि न्यूजीलैंड की टीम अंतिम तीन मैच गंवाने के कारण चौथे स्थान पर रही. इस विश्व कप में भारत और न्यूजीलैंड का सामना पहली बार होगा क्योंकि लीग स्तर पर उनका मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ गया था। दोनों टीमें मजबूत हैं लेकिन दोनों की कुछ कमजोरियां हैं. ऐसे में दोनों टीमें एक दूसरी की कमजोरियों का फायदा उठाते हुए 14 जुलाई को लॉर्ड्स में होने वाले फाइनल मुकाबले के लिए अपना स्थान सुरक्षित करना चाहेंगी.