कैमूर: पैसा डबल करने के नाम पर 1 करोड़ 40 लाख की ठगी, पश्चिम बंगाल से शातिर ठग गिरफ्तार

कैमूर पुलिस ने पश्चिम बंगाल से 1 करोड़ 40 लाख की ठगी करने वाले शातिर फ्रॉड को गिरफ्तार किया है, जो लोगों को मछली पालन का काम दिखाकर चंद महीने में पैसा डबल करने का झांसा देता था और फिर पैसा लेकर अंडर ग्राउंड हो जाता था.  

कैमूर: पैसा डबल करने के नाम पर 1 करोड़ 40 लाख की ठगी, पश्चिम बंगाल से शातिर ठग गिरफ्तार
पैसा डबल करने के नाम पर 1 करोड़ 40 लाख की ठगी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Kaimur: कैमूर पुलिस ने बंगाल से एक ऐसे शातिर ठग को गिरफ्तार किया है जिसने पैसा डबल करने के नाम पर 1 करोड़ 40 लाख की बड़ी हेराफेरी की और फिर अंडर ग्राउंड हो गया. पुलिस ने ठगी के मामले में जिस शख्स को गिरफ्तार किया है उसका नाम राकेश श्रीवास्तव है. पुलिस को इस शख्स की काफी समय से तलाश थी. राकेश ने ठगने का ऐसा तरीका निकाला जिस पर आसानी से लोगों ने भरोसा कर लिया. 

बता दें कि शातिर राकेश श्रीवास्तव ने एक फर्जी नेक्सेस कंपनी शुरु की, फिर वहां मछली पालन का कार्य दिखाकर लोगों को चंद महीनों में ही पैसे डबल कर देने का भरोसा देने लगा. वहीं, इसके झांसे में कैमूर जिले के भभुआ शहर का रहने वाला संतोष सिंह ऐसा फंसा कि उसने एक करोड़ 40 लाख रुपए अपने खाते से राकेश को ट्रांसफर कर दिए. इतनी बड़ी रकम एक साथ बैंक खाते में आते ही राकेश ने सबसे पहले संतोष सिंह का फोन उठाना बंद कर दिया. बार-बार फोन करने पर कभी-कभी राकेश संतोष का फोन उठाता और फिर उसे गोल मटोल जवाब देकर रख देता. 

ये भी पढ़ें- टोल प्लाजा पर आकाशीय बिजली गिरने से सिस्टम करप्ट, आधा घंटे तक रुका रहा परिचालन

राकेश की इस हरकत को बार-बार देखने के बाद संतोष को पता चल गया कि उसके साथ बड़ा फ्रॉड हो चुका है. इस बीच संतोष सिंह ने जालसाज राकेश से मिलने की बहुत कोशिश की लेकिन राकेश संतोष से नहीं मिला. हजार कोशिशों के बाद जब राकेश नहीं मिला और ना ही उसने पैसे का कोई सही हिसाब-किताब बताया तब जाकर पीड़ित संतोष  4 सितंबर 2020 को भभुआ थाने पहुंचा और ठग राकेश के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई. 

इधर, इतनी बड़ी रकम की ठगी की शिकायत मिलने के बाद पुलिस फौरन हरकत में आई और कैमूर एसपी ने जांच के लिए अपर थाना प्रभारी भभुआ रणवीर कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन करते हुए उसे पश्चिम बंगाल भेजा दिया, जहां पुलिस ने आरोपी राकेश कुमार श्रीवास्तव को बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले से गिरफ्तार किया. 

जानकारी के अनुसार, राकेश खरदा थाना क्षेत्र के तुषार सुरलेन गांव में अपने आवास पर पुलिस के हत्थे चढ़ा, जिसके बाद भभुआ पुलिस राकेश को पश्चिम बंगाल से भभुआ ले आई . यहां पुलिस ने सदर अस्पताल भभुआ में उसकी मेडिकल जांच कराने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया. 

उधर, घटना को लेकर कैमुर एसपी राकेश कुमार का कहना है कि 1 करोड़ 40 लाख की ठगी के मामले में पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी और पता लगाएगी की राकेश के गिरोह में कौन-कौन और शामिल हैं और उन्होंने और कितने लोगों को चूना लगाया है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.