'गुलाबो सिताबो' की 'फातिमा बेगम' नहीं रहीं, उमराव जान में भी निभाई थी भूमिका
X

'गुलाबो सिताबो' की 'फातिमा बेगम' नहीं रहीं, उमराव जान में भी निभाई थी भूमिका

फिल्म गुलाबो सिताबो की फातिमा बेगम फर्रुख जाफर नहीं रहीं. फर्रुख जाफर को फिल्म गुलाबो सिताबो में उनके इस जबरदस्त किरदार के लिए फिल्म फेयर अवार्ड मिला था. वह 89 वर्ष की थीं. 

'गुलाबो सिताबो' की 'फातिमा बेगम' नहीं रहीं, उमराव जान में भी निभाई थी भूमिका

लखनऊ: हिंदी फिल्मों की मशहूर अदाकारा फर्रुख जाफर (Farukh Jaffer) का शुक्रवार को 89 वर्ष की उम्र में लखनऊ में निधन हो गया. फर्रुख ने रेखा की फिल्म 'उमराव जान' से लेकर अमिताभ बच्चन की 'गुलाबो सिताबो' तक में अपने किरदार से दर्शकों को प्रभावित किया था.

फर्रुख जाफर के नाती शाज अहमद ने शुक्रवार को यह जानकारी दी कि उनकी नानी का मस्तिष्काघात (concussion) के चलते शाम 7 बजे गोमतीनगर के विशेषखंड स्थित आवास पर निधन हो गया. अहमद ने बताया, शनिवार को सुबह 10 बजे ऐशबाग स्थित कब्रिस्तान में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

पहली महिला RJ भी रहीं थी फर्रुख जफर

फर्रुख जफर जौनपुर के शाहगंज क्षेत्र के चकेसर गांव में पैदा हुई थीं, पर वह लखनऊ में ऐसी रची-बसी कि यहीं की होकर रह गईं. उन्हें आकाशवाणी में उद्घोषक (Announcer) की नौकरी भी मिली और वह देश की पहली महिला RJ बन गई थीं. फर्रुख का विवाह स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व विधान पार्षद एस एम जफर (S. M. Zafar) के साथ हुआ था.

यह भी पढ़ें: अमिताभ बच्चन कर बैठे ये बड़ी गलती, Facebook यूजर से मांगनी पड़ी माफी

1981 में शुरु किया था एक्टिंग करियर

अहमद ने बताया कि उनकी नानी ने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत 1981 में रिलीज हुई फिल्म 'उमराव जान' से की थी जिसमें उन्होंने अभिनेत्री रेखा की मां का किरदार निभाया था. इसके अलावा स्वदेश, सुल्तान, सीक्रेट सुपरस्टार और पीपली लाइव समेत कई फिल्मों में उन्होंने अभिनय किया था. इन सब के अलावा पिछले साल जून में रिलीज हुई फिल्म 'गुलाबो सिताबो' में उन्होंने फातिमा बेगम का किरदार निभाकर सबका दिल जीता था.

LIVE TV

Trending news