B'day: जब रानी मुखर्जी से शादी करने के लिए आदित्य चोपड़ा ने छोड़ा था घर

बहुत कम लोग जानते हैं कि आमिर खान की फिल्म गुलाम में 'रानी मुखर्जी' की आवाज को डब किया गया था. 

B'day: जब रानी मुखर्जी से शादी करने के लिए आदित्य चोपड़ा ने छोड़ा था घर
(फोटो साभार- Instagram)

नई दिल्ली : बॉलीवुड में अपनी खरखरी आवाज से पहचान बनाने वालीं रानी मुखर्जी आज अपना 40वां बर्थडे मना रही हैं. बहुत कम लोग जानते हैं कि आमिर खान की फिल्म गुलाम में 'रानी मुखर्जी' की आवाज को डब किया गया था. मेकर्स को लगता था कि रानी की आवाज फैंस को पसंद नहीं आएगी. लेकिन साल 1999 में आई करण जौहर की 'कुछ-कुछ होता है' ने रानी को बॉलीवुड की बुलंदियों में पहुंचा दिया. रानी आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं. शादी और फिर एक प्यारी सी बेटी की मां बनने के बाद भी रानी ने इंडस्ट्री में अपनी जगह कायम रखी है. 

21 मार्च 1978 को मुंबई में रानी मुखर्जी का जन्म हुआ था. बंगाली फैमिली में जन्मीं रानी के कई सारे लोग फिल्म इंडस्ट्री से ताल्लुक रखते थे. उनके पिता राम मुखर्जी फिल्म डायरेक्टर थे और उनकी मां कृष्णा मुखर्जी प्लेबैक सिंगर थीं. रानी ने 1996 में पिता की डायरेक्ट की गई बंगाली फिल्म 'बियेर फूल' से एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी. बाद में यही फिल्म हिंदी में 'राजा की आएगी बारात' के नाम से बनाई गई जिसमें रानी ने लीड रोल प्ले किया था. फिल्म नहीं चली लेकिन रानी को इंडस्ट्री में काम मिलने लगा. 

चीनी BOX OFFICE पर रानी की 'हिचकी' का कहर जारी, आमिर की इस फिल्म के रिकॉर्ड को तोड़ा

ऐसे मिला टीना मल्होत्रा का रोल 
1998 में रानी ने आमिर खान के साथ विक्रम भट्ट की फिल्म 'गुलाम' की और इस फिल्म ने उन्हें पहचान दिलाई. साल 1998 में रिलीज हुई फिल्म 'कुछ कुछ होता है' में टीना मल्होत्रा के रोल ने रानी मुखर्जी को हिट बना दिया. आपको बता दें कि रानी से पहले ये रोल ट्विंकल खन्ना को ऑफर हुआ था लेकिन ट्विंकल के मना करने के बाद रानी की किस्मत चमक गई. करण जौहर इस फिल्म के लिए किसी और से रानी की आवाज नहीं डब कराना चाहते थे बाद में  रानी अपनी आवाज खुद डब की. 

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

Still remember the the steps @beingsalmankhan #instagram #biggboss11 #biggboss @colorstv #ranimukerji

A post shared by Rani Mukerji Chopra (@ranimukerji_official) on

'साथिया' ने दी रानी के करियर को रफ्तार 
रानी ने 'बादल', 'बिच्छू', 'हे राम', 'हर दिल जो प्यार करेगा' , 'कहीं प्यार ना हो जाए' के अलावा 'चोरी चोरी चुपके चुपके', 'बस इतना सा ख्वाब है' और 'नायक : द रीयल हीरो' जैसी फिल्में की लेकिन किस्मत उनका साथ नहीं दे रही थी फिर साल 2002 में शाद अली की फिल्म 'साथिया' ने रानी मुखर्जी के करियर को एक बार फिर से ट्रैक लाकर खड़ा कियाण् इस फिल्म के लिए रानी को उस साल का बेस्ट एक्ट्रेस (क्रिटिक) का फिल्मफेयर अवार्ड मिला. रानी ने 'युवा', 'ब्लैक' और 'नो वन किल्ड जेसिका' के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता. 

rani mukherjee with family

गुपचुप रचाई आदित्य चोपड़ा से शादी 
21 अप्रैल 2014 को पेरिस में रानी ने निर्माता निर्देशक आदित्य चोपड़ा के साथ गुपचुप शादी रचाई. आदित्य चोपड़ा ने अपनी पहली पत्नी को तलाक दिया था और इसी बीच रानी के साथ उनकी अफेयर की खबरें छपने लगीं. इस बात से यश चोपड़ा नाखुश थे और नाराज होकर आदित्य घर छोड़कर होटल में रहने लगे थे. बाद में दोनों के परिवारों की रजामंदी के बाद इनकी शादी हुई. 9 दिसंबर 2015 को रानी के घर नन्हीं परी 'अदीरा' का जन्म हुआ. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें