हो जाएं सतर्क! दोपहर की लंबी नींद कहीं दिल के लिए खतरा न बन जाए, जानें कैसे

दोपहर की लंबी नींद आपकी सेहत बिगाड़ सकती है. अगर यह रोजाना आपकी आदत हो रही है तो कई बीमारियों की यह कारक बन सकती है. ईएससी कांग्रेस 2020 द डिजिटल एक्सपीरियंस में प्रकाशित एक शोध में ये बात सामने आई है.

हो जाएं सतर्क! दोपहर की लंबी नींद कहीं दिल के लिए खतरा न बन जाए, जानें कैसे

नई दिल्ली: दोपहर की लंबी नींद आपकी सेहत बिगाड़ सकती है. अगर यह रोजाना आपकी आदत हो रही है तो कई बीमारियों की यह कारक बन सकती है. ईएससी कांग्रेस 2020 द डिजिटल एक्सपीरियंस में प्रकाशित एक शोध में ये बात सामने आई है. इस अध्ययन में सामने आया है कि दोपहर एक घंटे से अधिक समय तक के लिए सोना दिल की बीमारी के जोखिम को बढ़ा देता है. 

इस विश्लेषण में 20 से अधिक अध्ययनों में कुल 3,13,651 प्रतिभागियों को शामिल किया गया था जिनमें से कुछ 39 फीसदी ने दोपहर के वक्त नींद ली. चीन में स्थित ग्वांगझोउ विश्वविद्यालय में शोध के लेखक डॉ. झे पान ने कहा कि दिन में सोना पूरी दुनिया में आम है और सामान्यत: इसे सेहत के लिए बेहतर माना जाता है. उन्होंने कहा कि आमतौर पर यह समझा जाता है कि झपकी लेने से काम करने की क्षमता में सुधार आता है और नींद की कमी से होने वाले नुकसानों का भी प्रतिकार होता है. हमारे शोध में इन दोनों ही विचारों को चुनौती दी गई है. 

ये भी पढ़ें. इस उम्र तक अपने मोटापे पर कर लें कंट्रोल, वरना हो सकता है जान का खतरा 

अध्ययन में पाया गया कि दिन में सोने वाले प्रतिभागियों की तुलना में नहीं सोने वाले प्रतिभागियों में मौत की दर कम थी। अगर रात में सोने की बात करें, तो यह खतरा उनमें अधिक रहता है जो रोजाना रात को छह घंटे से अधिक सोते हैं. डॉ. पैन कहते हैं  कि नतीजे से पता चलता है कि 30 से 45 मिनट तक सोने से उन लोगों के दिलों की सेहत सुधरती है जो रात में पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं ले पाते हैं. 

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.