A Suitable Boy: मंदिर प्रांगण में फिल्माए गए किसिंग सीन, हिंदू आस्था का अपमान क्यों?

अभिनेता ईशान खट्टर और अभिनेत्री तब्बू की वेब सीरीज अ सूटेबल बॉय (A Suitable Boy) का विरोध हो रहा है. यहां तक इसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो गई है.  

A Suitable Boy: मंदिर प्रांगण में फिल्माए गए किसिंग सीन, हिंदू आस्था का अपमान क्यों?

नई दिल्ली: अभिनेता ईशान खट्टर और अभिनेत्री तब्बू की वेब सीरीज अ सूटेबल बॉय (A Suitable Boy) का विरोध हो रहा है. यहां तक इसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो गई है. 

दरअसल हाल ही में रिलीज़ हुई वेब सीरीज़ अ सूटेबल बॉय विवाद के केन्द्र में है. वेब सीरीज पर हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने और लव जेहाद को बढ़ावा देने के आरोप लग रहे हैं. डायरेक्टर मीरा नायर (Meera Nair) के निर्देशन में बनी इस सीरीज में फिल्माए गए कुछ आपत्तिजनक दृश्यों पर विवाद है. मध्य प्रदेश के रीवा में बीजेपी युवा मोर्चा के नेता गौरव तिवारी ने सीरीज पर आपत्ति जताई और नेटफ्लिक्स (Netflix) के खिलाफ FIR दर्ज करा दी है..

हिंदू आस्था का अपमान क्यों ?
सीरीज़ के जिन दृश्यों पर आपत्ति जताई गई है, उनकी शूटिंग मध्य प्रदेश के महेश्वर घाट पर हुई है. बीजेपी युवा मोर्चा नेता गौरव तिवारी का कहना है कि किसिंग सीन मंदिर के प्रांगण (kissing scene in temple) में ही क्यों शूट किए गए. रानी अहिल्याबाई होल्कर ने महेश्वर घाट को शिवभक्तों के लिए समर्पित किया पर नेटफ्लिक्स इंडिया इस पावन धरा का इस्तेमाल लव-जिहाद को बढ़ावा देने और हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए कर रहा है. 

NetflixIndia के खिलाफ मुकदमा दर्ज
गौरव तिवारी कहते हैं, ' A Suitable Boy वेब सीरीज में एक ही एपिसोड में तीन बार मंदिर के प्रांगण में चुंबन दृश्य फिल्माए गए. पटकथा के अनुसार हिंदू महिला मुस्लिम युवक को प्रेम करती है. सवाल ये है कि किसिंग सीन मंदिर प्रांगण में क्यूं शूट किए गए?  मैने रीवा में इस मामले पर FIR दर्ज करा दी है.' वे कहते हैं,' क्या मस्जिद में अजान के समय ऐसा शूट करने की ‘क्रीएटिव फ़्रीडम’ है आपको @NetflixIndia? हिंदुओं की सहिष्णुता को उनकी कमजोरी मत समझिए, ये मध्यप्रदेश का नहीं, भगवान शिव और करोड़ों शिवभक्तों का भी अपमान है. माफ़ी माँगनी पड़ेगी.'

बीजेपी भी Netflix पर हुए हमलावर
मंदिर प्रांगण में किसिंग सीन फिल्माने और लव जेहाद को बढ़ावा देने पर बीजेपी भी Netflix पर हमलावर हो गई है. बीजेपी के प्रवक्ता के. के. शर्मा ने कहा कि ये सनातन धर्म को बदनाम करने की एक बड़ी साजिश है. उम्मीद है कि राज्य सरकार इस मामले पर उचित करवाई करेगी. 
 
मध्य प्रदेश सरकार ने शुरू की कानूनी कार्रवाई
मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मामले पर संज्ञान लेते हुए पुलिस अधिकारियों को इस विवादास्पद कंटेंट का परीक्षण करने के निर्देश दिए हैं. नरोत्तम मिश्रा ने कहा, 'ओटीटी मीडिया प्लेटफॉर्म पर "A Suitable Boy" नामक फ़िल्म जारी की गई है. इसमें बेहद आपत्तिजनक दृश्य दिखाए गए हैं जो एक धर्म विशेष की भावनाओं को आहत करते हैं. मैंने पुलिस अधिकारियों को इस विवादास्पद कंटेंट का परीक्षण कराने को निर्देशित किया है. पुलिस अधिकारी परीक्षण कर बताएंगे कि संबंधित #ओटीटी_प्लेटफार्म और फिल्म के निर्माता निर्देशक पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के लिए क्या कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.'

यह भी पढ़ें- यह 'कामसूत्र' तोड़ रही है सारे रिकॉर्ड़, हॉलीवुड की फिल्में भी मांग रही हैं पानी

हर बार सनातन संस्कृति पर हमला क्यों ?
सवाल ये है कि हर बार एकता और सौहार्द की आड़ में धर्म विशेष की भावनाओं को आधार बनाकर क्यों पेश किया जाता है. सफाई पेश करने में जिस क्रिएटिव लिबर्टी यानी रचनात्मक आज़ादी का ढिंढोंरा पीटा जाता है क्या वो किसी दूसरे धार्मिक स्थल पर इस तरह की शूटिंग की अनुमति देता है. हमेशा हिंदू धर्म की सहिष्णुता को ही क्यों निशाना बनाया जाता है ?

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.