close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत: बाबा रामदेव

स्वामी रामदेव ने कहा, 'यह तभी हो सकता है जब देश में ऐसा कानून बने कि जो भी दो से ज्यादा बच्चे पैदा करे तो उसके बच्चे को वोट देने का अधिकार न हो, चुनाव लड़ने का अधिकार न हो और सरकार की ओर से जो सुविधायें दी जाती हैं, उन सभी सुविधाओं से उसे वंचित कर दिया जाये.'

देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत: बाबा रामदेव
रामदेव ने सुझाव दिया है कि देश की जनसंख्या को नियंंत्रित किया जाना चाहिए.

हरिद्वार: योग गुरू बाबा रामदेव ने रविवार को देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिये कानून लाये जाने की वकालत करते हुए कहा कि दो बच्चों के बाद पैदा होने वाले बच्चे को मताधिकार, चुनाव लड़ने के अधिकार तथा अन्य सरकारी सुविधाओं से वंचित कर दिया जाना चाहिए. यहां एक संवाददाता सम्मेलन में स्वामी रामदेव ने कहा कि जिस तरह से देश की जनसंख्या बढ़ रही है उसके लिये भारत तैयार नहीं है और किसी भी दशा में भारत की आबादी 150 करोड़ से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.

स्वामी रामदेव ने कहा, 'यह तभी हो सकता है जब देश में ऐसा कानून बने कि जो भी दो से ज्यादा बच्चे पैदा करे तो उसके बच्चे को वोट देने का अधिकार न हो, चुनाव लड़ने का अधिकार न हो और सरकार की ओर से जो सुविधायें दी जाती हैं, उन सभी सुविधाओं से उसे वंचित कर दिया जाये.'

यहां आपको बता दें कि इंदिरा गांधी के कार्यकाल में देश में इमरजेंसी लगाई गई थी. इसी दौरान देश की जनसंख्या नियंत्रित करने के लिए नसबंदी कार्यक्रम शुरू किया गया था, जिसके चलते आम लोगों के बीच कांग्रेस की लोकप्रियता में काफी कमी आई थी. जानकार मानते हैं कि इंदिरा गांधी की सरकार जाने में नसबंदी कार्यक्रम को लेकर जनता में रोष बड़ा कारण है.