झारखंड में सभी बॉर्डर हुए सील, E-Pass के बिना आवाजाही पर रोक

Jharkhand Samcahar: राज्य सरकार ने सभी बॉर्डर को सील करने का निर्देश दिया था. इसी आलोक में बंगाल से सटे इस बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया गया है.

झारखंड में सभी बॉर्डर हुए सील, E-Pass के बिना आवाजाही पर रोक
झारखंड में सभी बॉर्डर हुए सील. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Ranchi: झारखंड की  राज्य सरकार ने तीसरे चरण का स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह (Jharkhand Lockdown Strictness) लॉकडाउन लगा रखा है. इसी के चलते  बिना ई- पास (E-Pass) के गाड़ियों की आवाजाही नहीं की जा सकती है. वहीं,  इसको लेकर पिंडराजोरा थाना क्षेत्र के बंगाल बॉर्डर पर भी पुलिस और मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है. यहां बिना पास के आने वाले लोगों को वाहन सहित बंगाल की ओर वापस भेज दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ेंः कोरोना के बीच गरीबों के लिए राहत, महामारी में तैयार हुई कोविड चालीस की टीम

इस दौरान पुलिस की चुस्ती साफ दिख रही है. इस संबंध में थाना प्रभारी खुद बॉर्डर पर मुस्तैद नजर आ रहे हैं.  बता दें कि राज्य सरकार ने सभी बॉर्डर को सील करने का निर्देश दिया था. इसी आलोक में बंगाल से सटे इस बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया गया है. इसलिए अगर कोई ठोस वजह नहीं होने और ई-पास नहीं दिखाने वाले लोगों को बैरंग वापस कर दिया जा रहा है. 

ये भी पढ़ेंः स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के चौथे फेज में प्रशासन सख्त, रांची में पुलिस ने किया फ्लैग मार्च

वहीं, जिस प्रकार से शक्ति नजर आ रही है, इससे लगता है कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए यह एक ठोस कारगर कदम है. बता दें कि राज्य में 16 मई से 27 मई तक सख्ती से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह (लॉकडाउन) लागू रहेगा. इस दौरान E-Pass के बिना आवजाही पर रोक है. साथ ही इस दौरान बस का परिचालन भी बंद कर दिया गया है. ई-रिक्शा और व्यावसायिक वाहन के लिए पास की आवश्यकता नहीं है. वहीं,  दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों के लिए चेक पोस्ट बनाए गए हैं.

(इनपुट-मृत्युंजय मिश्रा )