close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी ने घाटी में बजाया चुनावी बिगुल, शहर के बीचों बीच हुई पहली चुनावी रैली

भाजपा ने चुनावी रैली करके साबित कर दिया कि आगामी चुनावों को लेकर उसने कमर कस ली है. 

बीजेपी ने घाटी में बजाया चुनावी बिगुल, शहर के बीचों बीच हुई पहली चुनावी रैली
घाटी के बिगड़े हालातों और तनाव भरे माहौल में भारतीय जनता पार्टी ने अपना चुनावी बिगुल बजाया.

श्रीनगर: लोकसभा चुनावों के घोषणा के बाद जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में पहली चुनावी सभा की. घाटी के बिगड़े हालातों और तनाव भरे माहौल में भारतीय जनता पार्टी ने अपना चुनावी बिगुल बजाया. राज्य के बाकी राजनीतिक दल चुनावी गतिविधियों को लेकर खामोश बैठे हैं. भाजपा ने चुनावी रैली करके साबित कर दिया कि आगामी चुनावों को लेकर उसने कमर कस ली है. बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और जम्मू कश्मीर के प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने कहा भाजपा नरेंद्र मोदी के नाम और उनके काम पर चुनाव लड़ेगी. 

रैली श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर पार्क में आयोजित की गई. पार्क के बीच कमल के फूलों वाले झंडों के बीच एक मंच सजाया गया था, जहां कश्मीर घाटी के हर जिले से पहुंचे करीब 300 -400  समर्थक और कार्यकर्ता रैली में हिंसा लेने पोहंचे थे. रैली में भाजपा के राष्ट्री अधियक्ष और राज्य के प्रभारी अविनाश राय खन्ना, राज्य स्टेट सैक्ट्री अशोक कौल और अन्य नेता मौजूद थे. खन्ना ने कहा कि "हम यह चुनाव मोदी जी के नाम और उनके द्वारा किये गए काम को लेकर लड़ेंगे. भाजपा ने पिछले 5 सालों में वह कर दिखाया जो पिछली सरकारे नहीं कर पाईं."      

रैली में सभी में सभी ज़िलों से भाजपा समर्थकों और कार्यकर्ताओं को इसलिए इकट्ठा किया गया था ताकि उन्हें आगामी चुनाव के लिए तैयार रहने को कहा जाए. खन्ना ने अपने संबोधन में कहा, "चुनाव आयोग द्वारा चुनाव की तारीखों की घोषणा भी कर दी गई है. किस ढंग से चुनाव जीता जाए और कमल का फूल दुबारा खिले उसके लिए तैयार होना है. 

खन्ना ने कहा, "घाटी में बीजेपी धीरे-धीरे अपनी जड़ें मज़बूत कर रही है. पहले भाजपा की बात करें तो तीन ही जिला अध्यक्ष थे लेकिन आज की तारीख में भाजपा के सभी 10 जिलों में अपनी पकड़ बनाई और आज हम बूथ लेवल तक पहुंच गए हैं. उन्होंने कहा कि हमने बेशक कोई सीट नहीं जीती लेकिन विधानसभा चुनावों में हमें छह हज़ार और लोकसभा में 50 हज़ार वोट मिले. जो भाजपा की मेम्बरशिप है, वो आज करीब 2 लाख से ऊपर है. दिन-प्रतिदिन भाजपा का ग्राफ बढ़ रहा है."  

कश्मीर के मुद्दों को लेकर बनाई गई रणनीति को लेकर भाजपा नेताओं ने कहा कि यहां का सबसे बड़ा मुद्दा शांति है. जहां शांति होगी वहां विकास होगा. पहले भी केंद्र पैसा भेजता था लेकिन लोगों तक नहीं पोहचता था, विकास नहीं हुआ था लेकिन आज पैसा आता है. आम आदमी उसकी जानकारी मांगता है कि कहां पैसा लगा है. हम चाहते हैं कि जैसे देश में विकास हो रहा है, वैसे ही यहां भी विकास की गति बढ़े. भाजपा पर मुस्लिम विरोधी पार्टी का टैग लगाया जाना गलत है. भाजपा का नारा ही है 'सबका साथ सबका विकास.'  

रैली में मौजूद भाजपा समर्थकों ने बीजेपी से काफी उम्मीदें जताई. रैली में मौजूद अब्दुल डार ने कहा कि भाजपा ने गरीबों के लिए काम किया है और हर वर्ग के लोगों का ख्याल रखा है. जो कुछ भाजपा कर पाई है वह किसी ने नहीं किया और भाजपा को जिताने के लिए हम पूरा साथ देंगे. एक अन्य समर्थक वीणा गुप्ता के अनुसार भाजपा ने आज चुनावी जंग की शुरुआत कर ली जो कोई और पार्टी नहीं कर पाई.