देश में कब लगेगा Corona की रफ्तार पर ब्रेक? मशहूर वायरोलॉजिस्ट Gagandeep Kang ने बताया समय

मशहूर वायरोलॉजिस्ट गगनदीप कांग ने बताया कि भारत में कोरोना की रफ्तार मई के आखिरी में कम होने लगेगी. लेकिन इसके लिए हमें वैक्सीनेशन ड्राइव में तेजी लाने की जरूरत है.

देश में कब लगेगा Corona की रफ्तार पर ब्रेक? मशहूर वायरोलॉजिस्ट Gagandeep Kang ने बताया समय

नई दिल्ली: मशहूर टीका विशेषज्ञ गगनदीप कांग (Gagandeep Kang) ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) मामलों में मौजूदा वृद्धि मई के मध्य से आखिर तक नीचे आ सकती है. कांग ने कहा कि कोरोना मामलों में एक या दो और उछाल आ सकते हैं, लेकिन शायद यह वर्तमान दौर जैसा बुरा नहीं होगा.

ग्रामीण क्षेत्रों में पैर पसार रहा कोरोना

उन्होंने आगे कहा कि फिलहाल यह उन क्षेत्रों में जा रहा है जहां वह पिछले साल नहीं पहुंचा. यानी इस बार कोरोना मध्य वर्ग को अपना शिकार बना रहा है. ग्रामीण क्षेत्र में अपना पैर पसार है, लेकिन वायरस के जारी रहने के आसार कम हैं. इसके साथ ही उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में घर बना चुके डर को दूर करते हुए कि टीका काफी प्रभावी है, और इस अभियान में तेजी लाने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें:- ममता का PM मोदी से सवाल- नई संसद बनाने के लिए पैसा है, तो वैक्सीनेशन के लिए क्यों नहीं?

'मई के आखिर तक कम होने लगेंगे कोरोना केस'

हालांकि कांग ने कोरोना वायरस की जांच (Corona Testing) में गिरावट पर चिंता प्रकट की और कहा कि (कोविड-19) के मामलों का अनुपात जांच से प्राप्त आंकड़ों से कहीं ज्यादा है. उन्होंने भारतीय महिला प्रेस कोर द्वारा आयोजित एक वेबीनार में सवाल के जवाब में कहा, ‘विभिन्न मॉडलों के अनुसार (मामलों के नीचे आने का) सबसे सही अनुमान महीने के मध्य और आखिर के बीच कहीं है. हालांकि कुछ मॉडलों के अनुसार, यह जून के प्रारंभ में होगा, लेकिन हम जो देख रहे हैं, उसके अनुसार यह मई के मध्य से आखिर तक है.’

ये भी पढ़ें:- दिल्ली हाई कोर्ट की केजरीवाल सरकार को फटकार, कहा- आप शुतुरमुर्ग जैसा व्यव्हार कर रहे

क्या कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है? 

वायरस की लहरों के बारे में अनुमान के संबंध में कांग ने कहा कि कोई भी व्यक्ति यह अनुमान लगाने के लिए (वायरस की) किस्म की विशेषता और महामारी की विभिन्न बातों का इस्तेमाल कर सकता कि किसी खास स्थान पर क्या होने जा रहा है. बशर्ते कि आंकड़ा मैथमेटिकल मॉडल पैनल के स्तर पर उपलब्ध हो. जब उनसे इस वायरस के भविष्य के बारे में पूछा गया तो उन्हेांने कहा, ‘यह वाकई बुरे फ्लू वायरस की भांति मौसम रिलेटेड हो जाएगा. यह शांत हो जाएगा और यह कि लोग बार बार की प्रतिरोधकता एवं टीकाकरण के कारण एक निश्चित स्तर तक प्रतिरोधक क्षमता हासिल कर लेंगे.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.