close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा में आप और जजपा मिलकर लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, ये होगा गठबंधन का फॉर्मूला

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आप, जजपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन का प्रस्ताव दिया था लेकिन कांग्रेस ने प्रस्ताव को ठुकरा दिया.

हरियाणा में आप और जजपा मिलकर लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, ये होगा गठबंधन का फॉर्मूला
AAP और जेजेपी के बीच हर‍ियाणा में गठबंधन का ऐलान हुआ. फोटो: ट्व‍िटर

नितिन धीमान, नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी और जननायक जनता पार्टी (जजपा) ने हरियाणा में लोकसभा की दस सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए शुक्रवार को गठबंधन करने की घोषणा की. आप और जजपा के हरियाणा में हुए गठबंधन पर ओमप्रकाश चौटाला के पौत्र दुष्‍यंत चौटाला ने कहा, हरियाणा में हम और आम आदमी पार्टी मिलकर एक और एक ग्‍यारह बनेंगे. इस मौके पर आम आदमी पार्टी की ओर से गोपाल राय, दुष्यंत और नवीन जयहिंद मौजूद थे.

समझौते के अनुसार, JJP 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. आप 3 सीटों पर उतरेगी. दुष्‍यंत का कहना है कि हम मिलकर हरियाणा में बदलाव लाएंगे.  हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला के पौत्र दुष्यंत चौटाला ने पिछले वर्ष जजपा बनाई है. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने कहा कि जजपा सात सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

VIDEO: मुस्लिम इलाके में मेनका ने कहा, 'आपके वोट के बिना भी जीत रही हूं, मेरी जरूरत हो तो वोट दीजिए'

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वह अगले दो-तीन दिनों में सात सीटों पर पार्टी के उम्मीदवारों को लेकर निर्णय करेंगे. चौटाला ने कहा, ‘‘झाड़ू (आप का चुनाव चिह्न) और चप्पल (जजपा का चुनाव चिह्न) बाधाओं को दूर करेंगे और विजयी बनेंगे और साथ मिलकर वे भाजपा और कांग्रेस को हराएंगे.’ अरविंद केजरीवाल ने आप, जजपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन का प्रस्ताव दिया था लेकिन कांग्रेस ने प्रस्ताव को ठुकरा दिया.

आप चाहती थी कांग्रेस से 33 सीटों पर गठबंधन
दिल्ली की 7 सीटों पर कांग्रेस से अब भी गठबंधन के सवाल पर गोपाल राय ने कहा कि आप ने शुरू में ही कह दिया था कि गठबंधन होगा तो 33 सीट पर होगा. प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में दुष्‍यंत चौटाला ने कहा है कि आप और जेजेपी का गठबंधन हरियाणा से भाजपा और कांग्रेस की जातिवाद पर आधारित अवसरवादी राजनीति को ख़त्म करने के मक़सद से किया गया है. उन्होंने कहा कि जेजेपी, लोकसभा चुनाव में दिल्ली और चंडीगढ़ में भी भाजपा कांग्रेस को हराने में आप का सहयोग करेगी.

कांग्रेस ने दिल्‍ली में अकेले लड़ने की तैयारी की
कांग्रेस के दिल्ली के प्रभारी पीसी चाको ने कहा है कि कांग्रेस ने सिर्फ़ दिल्ली में आप से गठबंधन की पहल की थी, लेकिन आप के हरियाणा और पंजाब में भी गठबंधन करने की आप की शर्त के कारण पार्टी दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ना लड़ेगी. चाको ने हालांकि कहा कि अभी भी दिल्ली में आप के साथ मिलकर चुनाव लड़ने विकल्प खुला है.

input : Bhasha