दिल्ली हिंसा: क्राइम ब्रांच ने ताहिर हुसैन समेत 15 के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट

पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के लिए ताहिर हुसैन ने फंडिग की थी. हिंसा फैलाने में 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा रुपये खर्च किए गए.

दिल्ली हिंसा: क्राइम ब्रांच ने ताहिर हुसैन समेत 15 के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने दिल्ली दंगों (Delhi Riots) के मास्टरमाइंड ताहिर हुसैन और उसके भाई शाह आलम समेत 15 लोगों के खिलाफ कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. दिल्ली दंगों के वक्त ताहिर हुसैन के घर से पेट्रोल बम मिले थे. ताहिर हुसैन आम आदमी पार्टी (AAP) का पूर्व पार्षद है.

क्राइम ब्रांच की टीम ने 1030 पन्नों की चार्जशीट कड़कड़डूमा कोर्ट में दाखिल की है. इस मामले में 70 गवाह हैं. चार्जशीट के मुताबिक ताहिर हुसैन ही पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा का मास्टरमाइंड है, उसी ने दंगे शुरू करवाए थे. पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के लिए ताहिर हुसैन ने फंडिग की थी. हिंसा फैलाने में 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा रुपये खर्च किए गए. चार्जशीट में दंगा फैलाने के लिए ताहिर के भाई शाह आलम को भी आरोपी बनाया गया है.

पूर्वी दिल्ली में हिंसा के समय ताहिर हुसैन अपने चांद बाग वाले घर पर मौजूद था. दंगो से पहले ताहिर हुसैन ने CAA और NRC के प्रदर्शनकारियों के साथ मीटिंग की थी. उसके बाद ये प्लान किया गया कि जब अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप दिल्ली आएंगे तो उसी वक्त दिल्ली में हंगामा किया जाएगा. जिसका मैसेज पूरी दुनिया में जाएगा. ताहिर हुसैन ने उमर खालिद के साथ भी जामिया में मीटिंग की थी. हालांकि इस मामले में उमर खालिद को आरोपी नहीं बनाया गया.

ये भी पढ़ें- एक देश के दो नाम क्‍यों? India की जगह नाम हो केवल भारत, SC में याचिका

क्राइम ब्रांच ताहिर हुसैन सहित 15 लोगों के खिलाफ पूर्वी दिल्ली के चांद बाग में दंगे फैलाने के आरोप में चार्जशीट दाखिल करेगी.

वहीं क्राइम ब्रांच दूसरी चार्जशीट जाफराबाद में हुई हिंसा के मामले में पिंजरा तोड़ ग्रुप की महिलाओं के खिलाफ दाखिल करेगी. पिंजरा तोड़ महिलाओं को आरोपी बनाने के लिए सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की जाएगी.

ये भी देखें...

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.