Zee Rozgar Samachar

जींद उपचुनाव में हार के बाद बोले रणदीप सुरजेवाला, 'EVM मशीनों में हुई गड़बड़ी'

जींद उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवार डॉ. कृष्ण मिड्ढा ने जीत दर्ज की. वहीं कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सुरजेवाला तीसरे नंबर पर रहे. 

जींद उपचुनाव में हार के बाद बोले रणदीप सुरजेवाला, 'EVM मशीनों में हुई गड़बड़ी'
रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और नवनिर्वाचित विधायक डा.कृष्ण मिड्ढ़ा जनआकांक्षाओं पर खरे उतरेंगे. (फाइल फोटो)

जींद: जींद विधानसभा उपचुनाव में तीसरे स्थान पर रहे कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में गड़बड़ी का आरोप लगाया है. सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि करीब 24 ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी की गई थी. मशीनों के नंबर आपस में मेल नहीं खा रहे थे. 

हालांकि, उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और नवनिर्वाचित विधायक डा.कृष्ण मिड्ढ़ा जनआकांक्षाओं पर खरे उतरेंगे. 

पांचवे स्थान पर रही इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने जींद उपचुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए आरोप लगाया कि उनका उम्मीदवार धन-बल के मुकाबले कमजोर रहा है. उन्होंने विजयी उम्मीदवार डॉ. कृष्ण मिड्ढा को बधाई दी लेकिन ईवीएम पर किसी भी तरह की टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया.

मिड्ढा ने निकतम प्रतिद्वंद्वी को 12,935 वोटों से हराया
गौरतलब है कि जींद उपचुनाव में गुरुवार को बीजेपी उम्मीदवार डॉ. कृष्ण मिड्ढा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी दिग्विजय सिंह चौटाला को 12,935 वोटों के अंतर से पराजित किया.

हरिचंद मिड्ढा के निधन से खाली हुई थी सीट
जींद उपचुनाव में 28 जनवरी को मतदान कराया गया था जिसमें कुल 75.77 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था. इनेलो विधायक हरिचंद मिड्ढा के निधन से यह सीट रिक्त हुई थी. 

वहीं, दोपहर में मतगणना के सात दौर पूरे होने के बाद एक पार्टी एजेंट ने ईवीएम मशीन में गड़बड़ी का आरोप लगाया जिसके बाद समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया. मतगणना केंद्र के बाहर स्थिति बिगड़ते देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. 

जींद के उपायुक्त सह निर्वाचन अधिकारी अमित खत्री ने ईवीएम को लेकर लगाये गये आरोपों को खारिज किया है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.