गाजियाबाद में 5 मौतों की आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट, सामने आई मौत की वजह

गाजियाबाद में 5 मौतों में प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई है. पुरुष गुलशन को पांच जगह चोटें आई हैं, उसकी मौत हेमरेज के चलते हुई है.

गाजियाबाद में 5 मौतों की आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट, सामने आई मौत की वजह
गाजियाबाद में 5 लोगों की मौत से हर कोई हैरान है.

गाजियाबाद: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद के पॉश इलाके इंदिरापुरम में मंगलवार तड़के एक शख्स ने दो बेटियों की हत्या कर अपनी दो पत्नियों के साथ आठवीं मंजिल से छलांग लगा दी. इस घटना में व्यक्ति और उसकी एक पत्नी की तत्काल घटनास्थल पर मौत हो गई, जबकि दूसरी पत्नी गंभीर रूप से घायल बताई जाती है. गाजियाबाद में 5 मौतों में प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई है. पुरुष गुलशन को पांच जगह चोटें आई हैं, उसकी मौत हेमरेज के चलते हुई है.

पत्नी परमिना को 4 चोटें आई हैं. शॉक और हेमरेज के चलते उसकी जान गई है. मैनेजर महिला संजना को भी 4 जगह चोट आई थी, उनक मौत भी हेमरेज के चलते हुई है. बेटी कार्तिका के गले पर चोट के निशान हैं. बेटा रितिक की गर्दन पर वार के निशान हैं. यह अभी प्रारंभिक रिपोर्ट है.

आर्थिक तंगी के चलते उठाया इतना बड़ा कदम
इस कांड के पीछे की वजह आर्थिक तंगी बताई जाती है. घटना कृष्णा सफायर अपार्टमेंट की है. खबर लिखे जाने तक पुलिस मौके पर ही मौजूद थी. घटनास्थल पर मौजूद गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) सुधीर कुमार सिंह ने आईएएनएस को बताया, 'मंगलवार तड़के सूचना मिली की कृष्णा-अप्रा सफायर की आठवीं मंजिल से तीन लोगों ने छलांग लगा दी है. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस को एक व्यक्ति और एक महिला मृत मिले और गंभीर रूप से घायल दूसरी महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया. मृतक के फ्लैट को खोलकर देखा गया तो उसमें लगभग 11 वर्षीय लड़की और लगभग 13 वर्षीय एक लड़के के शव भी मिले.'

उन्होंने कहा, 'जांच में पता चला कि वह व्यक्ति लगभग डेढ़ महीने पहले इस घर में आया था. पता चला है कि आर्थिक तंगी के कारण उन्होंने आत्महत्या की है.' पुलिस अधीक्षक ने कहा कि 'फ्लैट की दीवार पर सुसाइड नोट मिला है. उसकी जांच की जा रही है. ज्यादा जानकारी आगे की जांच के बाद पता चलेगी.' उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को घटना के बारे में सूचित कर दिया गया है.

घटना से पूर्व भी काफी देर तक फ्लैट से चीखने-चिल्लाने की आवाजें आती रही थीं. उसके कुछ देर बाद ही कॉलोनी के चौकीदार को आठवीं मंजिल की बालकनी से कुछ लोगों के नीचे गिरने की सूचना मिली. अपार्टमेंट के चौकीदारों और यहां रहने वालों ने पुलिस को यह जरूर बताया कि घर में दो-दो बीबियों को लेकर आए-दिन तू तू मै मै होती रहती थी.