Delhi MCD Elections 2022: MCD चुनाव के लिए दिल्ली तैयार, जानें कहां कैसा रहेगा इंतजाम
topStories1hindi1469192

Delhi MCD Elections 2022: MCD चुनाव के लिए दिल्ली तैयार, जानें कहां कैसा रहेगा इंतजाम

Delhi MCD Election 2022: इस एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि उसे 230 वार्ड में जीत मिलेगी और बीजेपी 20 तक ही सिमट जाएगी. वहीं, भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि वो इस बार जीत का रिकॉर्ड बनाएगी.

Delhi MCD Elections 2022: MCD चुनाव के लिए दिल्ली तैयार, जानें कहां कैसा रहेगा इंतजाम

Security arrangement for Delhi MCD election 2022: दिल्ली में रविवार यानी कल नगर निगम (एमसीडी) चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. इस बार के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के साथ कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच मुकाबला है. तीनों पार्टियों ने अपनी एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है. अब मतदाताओं की बारी है. रविवार को दिल्ली के 1.45 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. वोटिंग के दौरान किसी प्रकार की दिक्कत न हो इसके लिए दिल्ली पुलिस ने कमर कस ली है. सुरक्षा के लिहाज से राजधानी के हर नुक्कड़ पर सुरक्षकर्मियों को तैनात किया जाएगा. वोटिंग के दौरान बाजार भी बंद रहेंगे.

इस बार के एमसीडी चुनाव में कुल 1,349 कैंडिडेट चुनावी मैदान में हैं. 4 दिसंबर की सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक वोट डाले जाएंगे. इसके बाद वोटों की गिनती 7 दिसंबर को होगी. चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में कुल 1,45,05,358 वोटर हैं, जिनमें पुरुषों की संख्या 78,93,418 और महिलाओं की संख्या 66,10,879 है. वहीं, ट्रांसजेंडर की संख्या 1,061 है.

तीन निगमों के एक होने के बाद पहला चुनाव
22 मई को तीन निगमों को एक किए जाने के बाद यह पहला एमसीडी चुनाव है. दिल्ली एमसीडी की शुरुआत साल 1958 में हुई थी. साल 2012 में इसे तीन हिस्सों में बांट दिया था, ये थे उत्तर, दक्षिण और पूर्वी दिल्ली नगर निगम. लेकिन इस साल मई के महीने में तीनों को मिलाकर एक बना दिया गया है.

इस एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि उसे 230 वार्ड में जीत मिलेगी और बीजेपी 20 तक ही सिमट जाएगी. वहीं, भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि वो इस बार जीत का रिकॉर्ड बनाएगी. इस बीच कांग्रेस भी अपना खोया हुआ जनाधार तलाशने की जुगत में है.

एक लाख जवानों की होगी तैनाती
चुनाव आयोग ने वोटिंग से पहले सभी तैयारियों को पूरा कर लिया है. दिल्ली दंगों के बाद यह पहला चुनाव है. दिल्ली में कुल 3360 पोलिंग स्टेशन्स को संवेदनशील घोषित किया गया है. सुरक्षा के लिहाज से भी तैयारी की गई है. दिल्ली में चुनाव के दौरान 40 हजार पुलिसकर्मी, 20 हजार होमगार्ड और अर्धसैनिक तथा राज्य सशस्त्र पुलिस फोर्स की 108 कंपनियों को तैनात किया जाएगा.

इस बार दिल्ली के 68 पोलिंग स्टेशन को मॉडल सेंटर के रूप में तैयार किया गया है. वहीं 68 को पिंक पोलिंग सेंटर बनाया गया है. इससे पहले यानी साल 2017 के एमसीडी चुनावों में भाजपा ने 270 में 181 वार्ड में जीत दर्ज की थी. वहीं आम आदमी पार्टी को 48 वार्ड और कांग्रेस को 27 वार्डों में जीत मिली थी.

चुनाव से अगले दिन बंद रहेंगे स्कूल
दिल्ली के एमसीडी स्कूल चुनाव के अगले दिन यानी 5 दिसंबर को भी बंद रहेंगे. इस दौरान स्कूल के 90 परसेंट टीचर इलेक्शन ड्यूटी में तैनात रहेंगे. जबकि बचे हुए 10 परसेंट बच्चों की ऑनलाइन क्लास लेंगे. एमसीडी के एजुकेशन डिपार्टमेंट ने कहा कि लंबे समय तक चुनावी ड्यूटी के होने की वजह से वोटिंग के अगले दिन को भी इलेक्शन ड्यूटी में शामिल किया गया है. 

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news