दिल्‍ली हिंसा: पुलिसकर्मी की मौत, DCP-ACP समेत 10 घायल, 5 मेट्रो स्टेशन बंद

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली के नॉर्थ ईस्ट जिले में रविवार को हुई हिंसा में 4 FIR दर्ज कर ली गई हैं.

दिल्‍ली हिंसा: पुलिसकर्मी की मौत, DCP-ACP समेत 10 घायल, 5 मेट्रो स्टेशन बंद
प्रदर्शनकारियों ने भजनपुरा में पेट्रोल पंप के पास खड़ी कार में आग लगा दी. आग ने पेट्रोल पंप को भी अपनी चपेट में ले लिया.

दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के समर्थन और विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों के बीच एक बार फिर हिंसा भड़क गई. इस हिंसा में अब तक 1 पुलिसकर्मी की मौत हो गई है और डीसीपी-एसीपी समेत 10 पुलिसकर्मी मैक्स अस्पताल में भर्ती हैं. उत्तर-पूर्व जिले में हिंसा के बाद जाफ़राबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जोहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद हैं.

उत्तर पूर्व और पूर्वी दिल्‍ली के कई इलाकों में भड़की इस हिंसा के बीच प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगा दी. गोकुलपुरी में पत्‍थरबाजी में हेड कांस्‍टेबल की मौत हो गई. दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक एसीपी के रीडर रतन लाल (हेड कॉन्टेबल) की मौत हो गई. शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा भी घायल हुए हैं. इसके बाद भजनपुरा के एक पेट्रोल पंप के नजदीक एक कार में आग लगाई जिसके बाद पेट्रोल पंप भी आग की चपेट में आ गया. मौके पर जब आग बुझाने के लिए दमकल की गाडियां पहुंची तो प्रदर्शनकारियों ने उनमें भी तोड़फोड़ कर दी.

डीसीपी शहादरा अपनी फोर्स के साथ नार्थ ईस्ट जिले के दयालपुर थाना इलाके के चांद बाग में डयूटी पर मौजूद थे. तभी उन पर हमला किया गया और उनकी गाड़ी में आग लगाई गई. इस पथराव में डीसीपी शहादरा अमित शर्मा को पत्थर लगे जिसके बाद उन्हें दूसरी सरकारी गाड़ी से मैक्स अस्पताल ले जाया गया. ऐसा बताया जा रहा है कि डीसीपी की न्यूरो सर्जरी हो रही है. उनकी स्थित गंभीर बनी हुई है. ऐसी जानकारी भी अस्पताल सूत्रों से मिली है कि उनके ब्रेन में क्लोटिंग हो गई है.

उसी वक्त मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स ने अपने वायरलैस सेट से पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दी, 'डीसीपी की गाड़ी में चांद बाग मजार के पास आग लगा दी गई है.'

यह भी पढ़ें- ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा

दिल्ली पुलिस ने मीडिया के माध्य से लोगों अपील की है, 'नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के इलाकों में हिंसा और आगजनी की कुछ घटनाएं सामने आई हैं, खासकर मौजपुर, कर्दमपुरी, चांद बाग और दयालपुर के इलाकों में इसे बनाए रखने के लिए दिल्ली और खासकर नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के लोगों से अपील की जाती है. शांति और सद्भाव और किसी भी झूठी अफवाहों पर विश्वास न करना. मीडिया से यह भी अपील की जाती है कि वे किसी भी परेशान करने वाली तस्वीरों को प्रसारित न करें जो स्थिति को और बढ़ा सकती हैं.दिल्ली पुलिस सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. नॉर्थ ईस्ट जिले के प्रभावित इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है और उपद्रवियों और असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.'

उपराज्‍यपाल और दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शांति की अपील की है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया, 'दिल्ली में आज की हिंसा परेशान करने वाली है और इसकी निंदा की जानी चाहिए. शांतिपूर्ण विरोध स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है, लेकिन हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता. मैं दिल्ली के नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे संयम, करुणा और समझ दिखाएं, चाहे जो भी उकसावे में ना आएं.'

दिल्‍ली में 10 इलाकों में धारा 144 लगाई गई है. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.