‘चीनी वसंत उत्सव’ के अवसर पर चीन और भारत की सेनाओं के बीच हुई बैठक

बैठक पूर्वी लद्दाख के चुशूल-मोलदो और डीबीओ-टीडब्ल्यूडी मीटिंग प्वाइंट्स में चीन के बीपीएम हट्स में आयोजित की गई.

‘चीनी वसंत उत्सव’ के अवसर पर चीन और भारत की सेनाओं के बीच हुई बैठक
(फोटो साभार - @NorthernComd_IA)

श्रीनगर: ‘चीनी वसंत उत्सव’ के अवसर पर शनिवार को पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में भारत और चीन की सेनाओं के बीच औपचारिक सीमा कार्मिक बैठक (बीपीएम) हुई. रक्षा प्रवक्ता ने यह जानकारी दी.

प्रवक्ता ने बताया, 'बैठक पूर्वी लद्दाख के चुशूल-मोलदो और डीबीओ-टीडब्ल्यूडी मीटिंग प्वाइंट्स में चीन के बीपीएम हट्स में आयोजित की गयी. भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व ब्रिगेडियर वी. के. पुरोहित और कर्नल एस. एस. लांबा ने किया तथा चीनी प्रतिनिधिमंडल की ओर से सीनियर कर्नल बाई मिन और कर्नल सोंग झांग ली शामिल हुए थे.' उन्होंने बताया कि प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों द्वारा राष्ट्रीय झंडे की सलामी के साथ बैठक की शुरुआत हुई.

उन्होंने बताया,'इसके बाद औपचारिक संबोधन हुए और शुभकामनाओं, बधाई संदेशों का आदान-प्रदान हुआ. संबोधन में संचालनात्मक स्तर पर रिश्ते बरकरार रखने और सुधारने की परस्पर इच्छा जतायी गई.' प्रवक्ता ने बताया कि इस अवसर पर चीनी संस्कृति एवं परंपराओं को प्रदर्शित करते सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए.

इस बीच उत्तरी सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शनिवार को लेह में फायर एंड फ्यूरी कोर मुख्यालय का दौरा किया. प्रवक्ता ने बताया कि लेफ्टिनेंट जनरल वाई. के. जोशी, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, फायर एंड फ्यूरी कोर ने सिंह को लद्दाख सेक्टर में संचालानात्मक तैयारियों के बारे में संक्षेप में अवगत कराया.

(इनपुट - भाषा)