close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नासिक में रिकार्ड बारिश के बाद खतरे के निशान से ऊपर पहुंची गोदावरी नदी

बारिश के कारण नासिक के गंगापूर, वारणा, पालखेड, धावली डैम पूरी तरह से भर गए है.

नासिक में रिकार्ड बारिश के बाद खतरे के निशान से ऊपर पहुंची गोदावरी नदी
24 घंटो में नासिक जिले में 656 मिली मीटर बारिश रिकार्ड की गई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र के नासिक जिले में बीते 24 घंटों लगातार बारिश से बाढ़ जैसी परिस्थितियां पैदा हो गई है. वहीं, कुछ इलाकों में जल भराव और बाढ़ की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने अपने स्‍तर पर तैयारियां शुरू कर दी है. पुलिस और प्रसाशन लगातार बाढ़ संभावित इलाकों में दौरा कर राहत कार्यों की समीक्षा में जुट गए हैं. 

उल्‍लेखनीय है कि महाराष्ट्र के नासिक में धुआंधार बारिश हो रही है. पिछले 24 घंटो में नासिक जिले में 656 मिली मीटर बारिश रिकार्ड की गई है. नासिक के ईगरपूरी, त्रयंबकेश्वर, पेण, सूरगान जिले में 100 मिली मीटर से ज्यादा बारिश हुई है. बारिश के कारण नासिक के गंगापूर, वारणा, पालखेड, धावली डैम पूरी तरह से भर गए है.

LIVE TV:

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, बारिश के पानी से लबालब भर चुके डैम से उनका पानी छोड़ा जा रहा हैं. नासिक के रामकुड़ इलाक के मंदिर पानी में डूब गए है. गोदावरी नदी खतरे के निशान के पास बह रही हैं. मौसम विभाग का कहना है कि अगर 24 घंटो से नासिक में भारी बारिश हो सकती है.