लखीमपुर हिंसा: आरोपी आशीष मिश्रा को हुआ डेंगू, जेल के अस्पताल में भर्ती
X

लखीमपुर हिंसा: आरोपी आशीष मिश्रा को हुआ डेंगू, जेल के अस्पताल में भर्ती

Lakhimpur Kheri Violence: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा को डेंगू हो गया है. वे पुलिस रिमांड पर थे. उन्हें जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

लखीमपुर हिंसा: आरोपी आशीष मिश्रा को हुआ डेंगू, जेल के अस्पताल में भर्ती

नई दिल्ली. यूपी की चर्चित लखीमपुर हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence)  के मुख्य आरोपी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा (Ashish Mishra)  को डेंगू (Dengue) हो गया है. वह 48 घंटे की पुलिस रिमांड पर थे. दो बार की जांच में डेंगू की पुष्टि हुई, जिसके चलते रिमांड का वक्त पूरा होने से पहले ही आशीष मिश्रा को वापस जिला कारागार के अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. मेडिकली फिट न होने के कारण पुलिस आशीष मिश्रा से पूछताछ नहीं कर पा रही है

जरूरत पड़ने पर फिर लिया जाएगा रिमांड पर

एडिशनल एसपी अरुण कुमार सिंह ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट में उनकी शुगर भी बढ़ी हुई है. मेडिकली फिट न होने के कारण पुलिस ने उनसे पूछताछ करना सही नहीं समझा. शनिवार रात को उन्हें डॉक्टर्स की परामर्श पर जेल के अस्पताल में दाखिल करवा दिया गया. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अगर आगे जरूरत पड़ेगी तो ठीक होने के बाद उनको फिर से रिमांड पर लिया जाएगा और उनसे पूछताछ होगी.

ये भी पढ़ें: त्योहारों से पहले केंद्र ने राज्यों को किया अलर्ट, जारी की कोरोना एडवाइजरी

अब तक 13 आरोपी हुई गिरफ्तार

लखीमपुर हिंसा मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा समेत 4 आरोपियों को हिरासत में लिया. इनमें अंकित दास, शेखर भारती और लतीफ शामिल हैं. इन आरोपियों को जिला अदालत ने शुक्रवार को 24 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया था. इससे पहले गुरुवार कोर्ट ने चार अन्य आरोपियों–सुमित जायसवाल, सत्य प्रकाश त्रिपाठी उर्फ सत्यम, नंदन सिंह बिष्ट और शिशुपाल को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा था. पुलिस के अनुसार अब तक इस मामले में कुल 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें: मनी लॉन्ड्रिंग केस में आरोपी सुकेश ने किया बड़ा दावा, 'नोरा फतेही को गिफ्ट की थी लग्जरी कार'

3 अक्टूबर को हुई थी हिंसा 

बता दें, 3 अक्टूबर को हुई को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. इनमें से 4 की मौत गाड़ी चढ़ाने से जबकि बाकी 4 लोगों की बवाल में हुई है. आरोप है कि किसान कृषि कानूनों को लेकर विरोध कर रहे थे तभी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा ने उन पर गाड़ी चढ़ा दी. इसके बाद प्रदेश ही नहीं देश भर में आक्रोश का माहौल है. पुलिस ने सोमवार सुबह ही आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था. पुलिस अब तक वायरल वीडियो के आधार पर 20 से ज्यादा लोगों की शिनाख्त कर चुकी है. 

LIVE TV

Trending news