भिलाई की इस लड़की ने अमेरिका में मचा रखी है धूम, देखें वीडियो...

ऐश्वर्या ओली ने नार्वे में अपनी दमदार परफार्मेंस दी है और वर्तमान में ऐश्वर्या अमेरिका में ही अध्यनरत हैं साथ अमेरिका में कंटेम्पररी म्यूजिक का कोर्स कर रही है.

भिलाई की इस लड़की ने अमेरिका में मचा रखी है धूम, देखें वीडियो...

भिलाई : इस्पात के लिए विश्व प्रसिद्ध मध्यप्रदेश का भिलाई जिला अब टेलेंट के लिए भी जाना जा रहा है. भिलाई की अलीशा बेहुरा या फिर अन्वेषा भाटिया जिसने अपने डांस का लोहा पूरे देश में मनवाया है. वहीं, भिलाई में पली-बढ़ी ऐश्वर्या (ऐश) ओली इन दिनों अमेरिका में अपने पॉप म्यूजिक से धूम मचा रही हैं.                      

नार्वे में दी दमदार परफार्मेंस
ऐश्वर्या ओली ने नार्वे में अपनी दमदार परफार्मेंस दी है और वर्तमान में ऐश्वर्या अमेरिका में ही अध्यनरत हैं साथ अमेरिका में कंटेम्पररी म्यूजिक का कोर्स कर रही है. भिलाई की ऐशवर्या स्कूली शिक्षा में 10 वीं तक डीपीएस रिसाली से पढ़ाई करने के बाद अपने शौक और जुनून को निखारने अमेरिका का रुख किया. पढ़ाई पूरी होने के बाद ऐश्वर्या ने पॉप सिंगिंग का रूख कर लिया. पॉप सिंगर होने के अलावा ऐश्वर्या राय एक गाना कंपोजर भी हैं. वह वर्तमान में ऐश अमेरिका में कंटेम्पररी पर एडवांस कोर्स कर रही है.

ऐश्वर्या का पाश्चात्य संगीत के प्रति रुझान 8 साल की उम्र से बढ़ाए जब उन्होंने कारपेंटर और केटी पैरी जैसे नामचीन सिंगर-कंपोजर को सुना इसके बाद से उनका झुकाव पाश्चात्य संगीत के लिए होता गया और उन्होंने ना सिर्फ पाश्चात्य संगीत सीखा, बल्कि अब वह खुद ही गीत भी लिखती हैं और कंपोज भी करती हैं. उन्होंने अमेरिका के टेलीविजन शो अमेरिकाज गॉट टैलेंट और अमेरिकन आईडल (सीजन-2018) में भी भाग लिया है.

पिता ओली करते थे स्टील प्लांट में काम
ऐशवर्या के पिता अनिल कुमार ओली भिलाई स्टील प्लांट से हाल ही में स्वैच्छिक सेवानिवृत्त हुए हैं. सुर सम्राट मुहम्मद रफी को आदर्श मानने वाले अनिल भी संगीत में दखल रखते हैं और सुर साधना में लगे हैं. ऐश को संगीत के प्रति प्रेरणा अपने पिता से मिली है. बचपन में 4 साल की उम्र से उन्होंने भिलाई में ही भारतीय शास्त्रीय संगीत का विधिवत प्रशिक्षण लेना शुरू किया था. छुट्टियों में घर आईं ऐश अब इस्पात नगरीवासियों के परफार्मेंस देने जा रही हैं. ऐश का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई प्रमुख मंचों पर परफार्मेंस देने के बावजूद अपने शहर में अब तक विधिवत परफार्मेंस नहीं देने का एक मलाल सा था, इसलिए इस बार उन्होंने परफार्मेंस के लिए अपने ही शहर को चुना है.