MP उपचुनाव: एम-3 EVM से होगा मतदान, छेड़छाड़ करना होगा नामुमकिन

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक एम-3 ईवीएम मशीनें, एम-2 मशीनों की अपेक्षा बेहतर होती हैं. 

MP उपचुनाव: एम-3 EVM से होगा मतदान, छेड़छाड़ करना होगा नामुमकिन

भोपाल: मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं. इसको लेकर चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी है. वोटिंग प्रक्रिया को पारदर्शी बनाया जा सके, इसलिए चुनाव आयोग इस बार एम-2 ईवीएम के स्थान पर हाईटेक एम-3 ईवीएम मशीनों का प्रयोग करेगा. ये मशीनें नोटा सहित 384 प्रत्याशियों तक के लिए सक्षम हैं. साथ ही वजन कम होने के कारण इन्हें एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से लाया जा सकेगा. वहीं, इन मशीनों से छेड़छाड़ करना भी नामुमकिन होगा. 

BJP सांसद और उपचुनाव के प्रत्याशी का लोगों ने किया विरोध, कहा- अब वोट मांगने मत आना

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक एम-3 ईवीएम मशीनें, एम-2 मशीनों की अपेक्षा बेहतर होती हैं. एक ओर एम-2 मशीनों से जहां 4 बैलेट यूनिट को ही जोड़ा जा सकता था, वहीं, एम-3 मशीनों से 24 बैलेट यूनिट को जोड़ा जा सकता है. 

शिवराज और सिंधिया ने कांग्रेस को बताया कृषि विरोधी, कहा-किसानों को गुमराह कर रही पार्टी

जानकारी के मुताबिक एम-3 की ईवीएम मशीनों में बैटरी का प्रतिशत देखा जा सकेगा. इससे डिस्चार्ज होने से पहले इनकी बैटरी को भी बदला जा सकेगा. साथ ही इन मशीनों में प्रत्याशियों का सेक्शन और बैटरी सेक्शन दोनों को अलग-अलग सील्ड किया जा सकता है.

Watch Live TV-