close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेशः भारी बारिश के चलते परिवार पर गिरा मकान, हादसे में पिता की मौत, बेटा घायल

पठेरा बुरहान गांव के रहने वाले 65 वर्षीय कमोदी अहिरवार का यह कच्चा मकान एक खेत के बीच स्थित था. तेज बारिश से बचने के लिए पिता-पुत्र इसी घर में बैठे थे कि तभी घर ढह गया और हादसे में पिता की मौत हो गई.

मध्य प्रदेशः भारी बारिश के चलते परिवार पर गिरा मकान, हादसे में पिता की मौत, बेटा घायल
(फोटो साभारः ANI)

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश के सिरोंज में इन दिनों भारी बारिश का दौर जारी है, जिससे कई गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. लगातार हो रही बारिश से जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त है और हर तरफ लोग इससे परेशान दिखाई दे रहे हैं. ऐसे में मुगलसराय थाना अंतर्गत पठेरा बुरहान गांव में उस वक्त कोहराम मच गया जब कच्चा मकान बारिश के चलते गिर गया. जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस समय घर में पिता-पुत्र मौजूद थे. जिससे इस हादसे में पिता की मौत हो गई, तो वहीं पुत्र गंभीर रूप से घायल है. घटना के बाद गांव वालों ने मिलकर मलबा हटाया और दोनों को इससे बाहर निकाला.

हालांकि, ग्रामीणों ने जब तक इन्हें बाहर निकाला, तब तक पिता की मौत हो चुकी थी, जबकि बेटे की हालत काफी गंभीर थी. ऐसे में ग्रामीणों के सामने जो सबसे बड़ी चुनौती थी, वह थी लड़के को अस्पताल तक पहुंचाने की. क्योंकि इन दिनों जारी बारिश से पूरा गांव टापू में तब्दील हो चुका था, न सड़क का पता और न ही नदी-नालों का. हालांकि, कड़ी मशक्कत के बाद रस्सी और खाट के सहारे ग्रामीण घायल को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां उसका इलाज जारी है.

देखें लाइव टीवी

VIDEO: उफनती नदी में कागज की नाव की तरह पलट गया ट्रक, बाल-बाल बचे ड्राइवर और कंडक्टर

पठेरा बुरहान गांव के रहने वाले 65 वर्षीय कमोदी अहिरवार का यह कच्चा मकान एक खेत के बीच स्थित था. तेज बारिश से बचने के लिए पिता-पुत्र इसी घर में बैठे थे कि तभी घर ढह गया और हादसे में पिता की मौत हो गई, वहीं बेटा पन्ना बुरी तरह से घायल है. घटना की जानकारी मिलने के बाद तहसीलदार अल्का सिंह घटना स्थल पर पहुंचीं और पुलिस को इस घटना की सूचना दी, जिसके बाद पुलिस के सहयोग से ग्रामीणों को रेस्क्यू कर मलबे से बाहर निकाला गया.

बता दें मध्य प्रदेश के कई जिलों में इन दिनों भारी बारिश का दौर जारी है, जिससे दमोह, बैतूल, विदिशा में हालात काफी गंभीर बने हुए हैं. बारिश के चलते अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र बाढ़ के कहर में डूब गए हैं, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. मौसम विभाग ने बीते रविवार को अलर्ट जारी कर भारी बारिश की चेतावनी पहले ही जारी कर दी थी, जिसके बाद जिला प्रशासन ने भी लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा था.