VIDEO: कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बनकर पहुंची थीं मंत्री इमरती देवी, CM का संदेश पढ़ने में हालत हुई खराब

शुरुआत में तो मंत्री इमरती देवी ने मुख्यमंत्री का संदेश पढ़ा, जिसमें वह काफी गलतियां करती रहीं.

VIDEO: कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बनकर पहुंची थीं मंत्री इमरती देवी, CM का संदेश पढ़ने में हालत हुई खराब
मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल-विकास मंत्री इमरती देवी

ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में आयोजित गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में शिरकत करने पहुंची मुख्य अतिथि प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी मुख्यमंत्री का संदेश वाचन भी नहीं पढ़ पाईं, जिसके चलते उन्होंने मुख्यमंत्री के संदेश को बीच में ही छोड़ दिया. शुरुआत में तो मंत्री इमरती देवी ने मुख्यमंत्री का संदेश पढ़ा, जिसमें वह काफी गलतियां करती रहीं, बाद में जब उन्हें लगा कि वह यह संदेश नहीं पढ़ पाएंगी तो उन्होंने तुरंत यह संदेश कलेक्टर को थमा दिया और उन्हें इसे पूरा पढ़ने के निर्देश दे दिए. जिसके बाद कलेक्टर साहब ने ही मुख्यमंत्री का संदेश पढ़कर पूरा किया.

70th Republic day: राजपथ पर दुनिया ने देखी भारत की ताकत, चीफ गेस्ट ने उत्सुकता से देखी परेड

कार्यक्रम खत्म होने के बाद जब मंत्री इमरती देवी से इसके बारे में सवाल किया गया तो वह बोलीं कि उनकी तबीयत ठीक नहीं थी, जिसके चलते वह संदेश नहीं पढ़ पा रही थीं. इस पर जब उनसे कहा गया कि उन्होंने जितना पढ़ा है, वह भी गलत था. तो इस पर उन्होंने कहा कि कभी-कभी गलतियां हो जाती हैं, गलतियां किससे नहीं होतीं. मुझे तबीयत ठीक नहीं लग रही थी, इस वजह से संदेश नहीं पढ़ पाई और कलेक्टर से इसे पूरा पढ़ने के लिये कहा.

गणतंत्र दिवस पर फिर दिखा PM मोदी का साफा प्रेम, इस बार पहना पारंपरिक केसरिया साफा

बता दें महिला एवं बाल विकास मंत्री 26 जनवरी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए एसएफ ग्राउंड पहुंची थीं. वह यहां मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुई थीं, ऐसे में मुख्यमंत्री का संदेश पत्र उन्हें ही पढ़ना था, लेकिन जैसे ही उन्होंने संदेश पढ़ना शुरू किया वह असहज हो गईं और संदेश नहीं पढ़ पाईं. बता दें इमरती देवी डबरा सीट से विधायक हैं और वर्तमान में प्रदेश की महिला एवं बाल-विकास मंत्री हैं. वह कांग्रेस महासचिव सिंधिया की खास मानी जाती हैं. बता दें सिंधिया के मुख्यमंत्री बनने की मांग प्रदेश में इमरती देवी ने ही उठाई थी.