ग्वालियर: परिवहन विभाग की बड़ी कार्रवाई, संयुक्त अभियान चलाकर जब्त कीं 20 अवैध बसें

आरटीओ की छापेमारी होते ही, अवैध बसों को छोड़ ड्राइवर और बस स्टाफ फरार हो गए. आरटीओ ने अब तक 20 अवैध बसें जब्त की हैं. 

ग्वालियर: परिवहन विभाग की बड़ी कार्रवाई, संयुक्त अभियान चलाकर जब्त कीं 20 अवैध बसें
इन जब्त बसों पर 1 करोड़ का टैक्स बकाया है. साथ ही बिना परमिट दौड़ रही 6 बसें भी जब्त की गई हैं.

शैलेंद्र सिंह भदौरिया/ग्वालियर: मध्य प्रदेश में भूमाफियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई हो रही है. वहीं, अब ग्वालियर में परिवहन माफिया के खिलाफ भी सरकार ने सख्त रुख अपना लिया है. आज से प्रदेश में अवैध बसों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की शुरुआत हो गई है. ग्वालियर में ग्वलियर चंबल संभाग के 8 जिलों के परिवहन अधिकारियों ने संयुक्त अभियान चलाया. ग्वलियर, मुरैना, भिंड, गुना, अशोकनगर, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर जिलों के RTO और पुलिस के भारी भरकम अमला ग्वालियर बस स्टैंड पर छापा मार कार्रवाई में जुटा है.

वहीं, आरटीओ की छापेमारी होते ही, अवैध बसों को छोड़ ड्राइवर और बस स्टाफ फरार हो गए. आरटीओ ने अब तक 20 अवैध बसें जब्त की हैं. ये बसें ग्वलियर से गुना, मुरैना आदि जिलों में बिना परमिट और बिना टैक्स जमा किए सड़कों पर दौड़ रही थीं. इन जब्त बसों पर 1 करोड़ का टैक्स बकाया है. साथ ही बिना परमिट दौड़ रही 6 बसें भी जब्त की गई हैं. परिवहन विभाग का कहना है कि अंचल में बिना परमिट के करीब 250 बसें चल रही हैं, तो बिना टैक्स चुकाए 200 बसें संचालित हो रही हैं. इन पर लगातार कार्रवाई की जाएगी.