MP: अनोखे अंदाज में हुई थाना प्रभारी की विदाई, पुलिस परिवार के साथ ग्रामीण भी हुए शामिल

ट्रांसफर के बाद चौकी प्रभारी का विदाई का समय आया तो उनके अच्छे कार्यों को देखते हुए गुलाना सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों ने भव्य विदाई समारोह का कार्यक्रम आयोजित किया.

MP: अनोखे अंदाज में हुई थाना प्रभारी की विदाई, पुलिस परिवार के साथ ग्रामीण भी हुए शामिल
विदाई समारोह में ग्रामीण भी हुए शामिल

(मनोज जैन)/शाजापुरः मध्य प्रदेश के शाजापुर जिले में गुरुवार को एक अलग ही नजारा देखने को मिला, जहां जिले के गुलाना चौकी प्रभारी को नए अंदाज में विदाई दी गई. चौकी प्रभारी की विदाई के मौके पर पुलिसवालों और आस-पास के ग्रामीणों ने डीजे बुलाकर धूमधाम से चौकी प्रभारी को विदा किया, इस दौरान ग्रामीणों ने थाना प्रभारी लक्ष्मण सिंह देवड़ा के लिए घोड़ी भी मंगाई, जिसमें उन्हें बैठाया गया और विदा किया गया. दरअसल, जिले की गुलाना चौकी प्रभारी लक्ष्मण सिंह देवड़ा का पिछले दिनों एसपी ने गुलाना चौकी से कालापीपल पुलिस थाना पर ट्रांसफर कर दिया था. ट्रांसफर के बाद चौकी प्रभारी का विदाई का समय आया तो उनके अच्छे कार्यों को देखते हुए गुलाना सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों ने भव्य विदाई समारोह का कार्यक्रम आयोजित किया.

CG: रिटायर्ड सुपरवाइजर को विभाग ने दी ऐसी विदाई, समारोह देख भर आईं लोगों की आखें

समारोह में ग्राम गुलाना सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र से बड़ी तादाद में ग्रामीण जन एकत्रित हुए थे जहां सभी ने हार फूल से स्वागत कर चौकी प्रभारी देवड़ा को अनोखे अंदाज में घोड़े पर बिठाकर पूरे गुलाना में उनका जुलूस निकाला और जगह-जगह पर उनका सम्मान किया गया. विदाई देते हुए ग्रामीणों ने उन्हें हमें मत भूल जाना की बात कही. वहीं ग्रामीणों का प्यार देख देवड़ा ने 2 मिनट के भाषण के दौरान कहा कि दुनिया भूल सकता हूं, लेकिन इस जन अपार के साथ हुए मेरे विदाई समारोह के पल को में कभी नहीं भूल सकता हूं.

किसान ने की हेलीकॉप्टर से लाड़ली की विदाई, बेटी बोली- अब कुछ नहीं मांगूंगी पापा

वहीं उन्होंने आगे कहा कि चौकी क्षेत्र के अंतर्गत लगने वाले गांव में तमाम समुदाय में मुझे बेहद प्यार मिला मुझे क्षमता मिली. आपकी सूझबूझ से मैंने बड़े-बड़े केस को हल कर अंजाम दिया था इसीलिए आपको तो भूलने का सवाल ही पैदा नहीं होता है. स्वागत के बाद पुलिस चौकी गुलाना स्टाफ की ओर से 31 किलो फूलों के हार से देवड़ा का स्वागत किया गया. डीजे की धुन पर ग्रामीणों ने थिरकते हुए जिस तरह चौकी प्रभारी देवड़ा को घोड़े पर बिठाकर पूरे गांव में जो जूलुस निकाला वह सोशल मीडिया पर भी सुर्खी बटोर रहा है.