close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लातूर : धूप के कारण डैम का पानी सूखने की कगार पर, 10 दिन बाद की जाएगी पानी की सप्लाई

शहर को 10 भागों में बाटा गया है. इन इलाको में तय दिन को दस दिन में एक बार पानी सप्लाई की जाएगी.

लातूर : धूप के कारण डैम का पानी सूखने की कगार पर, 10 दिन बाद की जाएगी पानी की सप्लाई
लातूर मनपा ने पानी सप्लाई के बारे में विज्ञप्ती जारी की है. इस विज्ञप्ती में पानी सप्लाई का टाईम टेबल दिया गया है.(सांकेतिक फोटो)

नई दिल्लीः गर्मियों के आते ही पानी की किल्लत शुरू हो गई है. अब लातूर शहर में भी इसका असर दिखने लगा है. शहर में गर्मी का आलम ऐसा है कि शहर के डैम का पानी सूखने की कगार पर है. शहर में अब दस दिन बाद पानी की सप्लाई की जाएगी. तेज धूप के कारण मांजला डैम की पानी का स्तर कम हो गया है. डैम का पानी कम होन के कारण लातूर मनपा ने पानी के सप्लाई का फैसला लिया है. 1 मई से अब 10 दिन में एक बार पानी की सप्लाई शुरु की जाएगी. फिलहाल यहां पर आठ दिन में एक बार पानी की सप्लाई हो रही है.  

ट्रैफिक रूल्स तोड़ते कैमरे में कैद हुआ कपल, कटा जिंदगी भर का चालान

बता दें कि  लातूर शहर में स्थित मांजरा डैम से ही पानी की सप्लाई होती है. मांजरा डैम में पानी का स्तर लगातार घटता जा रहा है. अप्रैल में ही गर्मी का यह आलम है कि नलकूप, हैंडपंप और डैम सूखते जा रहे हैं. पानी की स्थिती को देखते हुए यह फैसला लिया गया है. लातूर मनपा ने पानी सप्लाई के बारे में विज्ञप्ती जारी की है. इस विज्ञप्ती में पानी सप्लाई का टाईम टेबल दिया गया है. शहर को 10 भागों में बाटा गया है. इन इलाको में तय दिन को दस दिन में एक बार पानी सप्लाई की जाएगी.

आज भी जिंदा है 'हिममानव', पैरों के निशान देख चौंक गई सेना, शेयर की तस्वीरें

यह पानी सिर्फ एक घंटे के लिए आएगा. एक घंटे में आपको दस दिन का पानी का स्टॉक करके रखना है. लातूर के लोग इससे काफी परेशान हो गए है. लोगों का कहना है की यहां पर पानी की स्थिती को देखते हुए सरकार को जल्द ही कदम उठाने चाहिए नहीं तो स्थिती काफी भयानक हो सकती है. लातूर में निजी तौर पर पानी की सप्लाई भी की जा रही है. जिनके पास बोअर है वह पानी निकालते है और बेचते है. यहां पर इन दिनों 6000 लीटर के टैंकर का भाव 800 रुपये तक पहुंच गया है. पानी की किल्लत को देखते हुए टैंकर्स की मांग बढी है.