Bihar: मुस्लिम परिवार ने सबसे बड़े मंदिर के लिए दान दी 2.5 करोड़ की जमीन
topStories1hindi1130706

Bihar: मुस्लिम परिवार ने सबसे बड़े मंदिर के लिए दान दी 2.5 करोड़ की जमीन

Virat Ramayan Mandir Construction: महावीर मंदिर ट्रस्ट के प्रमुख आचार्य ने कहा कि मुस्लिम परिवार ने सामाजिक समरसता और भाईचारे की बेहतरीन मिसाल पेश की है. मुस्लिमों की मदद के बिना मंदिर बनाने का सपना साकार नहीं होता.

Bihar: मुस्लिम परिवार ने सबसे बड़े मंदिर के लिए दान दी 2.5 करोड़ की जमीन

पटना: देश में सांप्रदायिक सौहार्द की एक मिसाल कायम करते हुए बिहार (Bihar) के एक मुस्लिम परिवार (Muslim Family) ने पूर्वी चंपारण जिले के कैथवलिया इलाके में बनने वाले दुनिया के सबसे बड़े हिंदू मंदिर (World's Largest Temple) विराट रामायण मंदिर (Virat Ramayan Mandir) के लिए 2.5 करोड़ रुपये की जमीन दान में दे दी है.

मुस्लिम परिवार ने मंदिर को दान की जमीन

पटना में स्थित महावीर मंदिर ट्रस्ट के प्रमुख आचार्य किशोर कुणाल ने सोमवार को कहा कि जमीन इश्तियाक अहमद खान ने दान की है जो गुवाहाटी में रहने वाले पूर्वी चंपारण के एक व्यापारी हैं. पूर्व आईपीएस अधिकारी कुणाल ने बताया, ‘उन्होंने हाल ही में पूर्वी चंपारण के केशरिया सब-डिवीजन के रजिस्ट्रार कार्यालय में मंदिर निर्माण के लिए अपने परिवार से संबंधित भूमि की दान से संबंधित सभी औपचारिकताएं पूरी कीं.’

ये भी पढ़ें- 'The Kashmir Files' के डायरेक्टर को IAS अफसर का जवाब- 'कश्मीर में करा दें पोस्टिंग'

दो समुदायों के बीच सामाजिक समरसता का उदाहरण

आचार्य किशोर कुणाल ने कहा कि इश्तियाक अहमद खान और उनके परिवार का ये दान दो समुदायों के बीच सामाजिक समरसता और भाईचारे का एक बेहतरीन उदाहरण है. उन्होंने कहा कि मुसलमानों की मदद के बिना इस महत्वाकांक्षी परियोजना को साकार करना मुश्किल होता.

मंदिर निर्णाण के लिए मिल चुकी है 125 एकड़ जमीन

उन्होंने बताया कि महावीर मंदिर ट्रस्ट को अब तक इस मंदिर के निर्माण के लिए 125 एकड़ जमीन मिली है. ट्रस्ट को जल्द ही क्षेत्र में 25 एकड़ और जमीन भी मिल जाएगी.

ये भी पढ़ें- Zomato महज 10 मिनट में आपके पास पहुंचाएगा खाना, इस नई सुविधा के बारे में जानिए सबकुछ

बताया जाता है कि विराट रामायण मंदिर कंबोडिया में विश्व प्रसिद्ध 12वीं शताब्दी के अंकोरवाट परिसर से भी ऊंचा होगा है, जो 215 फीट ऊंचा है. पूर्वी चंपारण के परिसर में ऊंचे शिखरों वाले 18 मंदिर होंगे और इसके शिव मंदिर में दुनिया का सबसे बड़ा शिवलिंग होगा. कुल निर्माण लागत करीब 500 करोड़ रुपये आंकी गई है. ट्रस्ट नई दिल्ली में नए संसद भवन के निर्माण में लगे विशेषज्ञों से जल्द ही सलाह लेगा.

(इनपुट- भाषा)

LIVE TV

Trending news