तिब्बत के चीन का हिस्सा होने को लेकर भारत के रुख में कोई बदलाव नहीं : MEA

तिब्बत के चीन का हिस्सा होने को लेकर भारत के रुख में कोई बदलाव नहीं : MEA
तिब्बत के चीन का हिस्सा होने को लेकर भारत के रुख में कोई बदलाव नहीं : MEA (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः भारत ने आज कहा कि तिब्बत के चीन का हिस्सा होने से जुड़े उसके रुख में कोई परिवर्तन नहीं आया है और वह सीमा विवाद का निष्पक्ष, तार्किक और परस्पर स्वीकार्य समाधान चाहता है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा, ‘‘सबसे पहले मैं यह स्पष्ट दूं कि पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र को लेकर भारत सरकार के रुख में कोई परिवर्तन नहीं आया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसी तरह सीमा से जुड़े सवाल के निष्पक्ष, उचित और परस्पर स्वीकार्य समाधान को लेकर भी हमारे रुख में कोई परिवर्तन नहीं आया है.’’ 

चीन ने तिब्बत में सीमा नियम तो काफी सख्त बनाया

गोपाल हबाले इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि क्या दलाई लामा के अरूणाचल प्रदेश दौरे को तिब्बत या सीमा विवाद से जुड़ी बातचीत को लेकर भारत के रख में परिवर्तन के रूप में देखा जाए.

तो इसलिए तिब्बत से भागे थे दलाई लामा, चीन ने बताई वजह

हालांकि तिब्बती आध्यात्मिक गुर के अरूणाचल प्रदेश के हालिया दौरे को लेकर चीन ने भारत पर तिब्बत मुद्दे को लेकर अपने संकल्प को तोड़ने का आरोप लगाते हुए चेतावनी भरे लफ्जों में कहा था कि दलाई लामा को वहां जाने की इजाजत देने से सीमा विवाद को सुलझाने की पहल पर ‘नकारात्मक प्रभाव’ पड़ेगा.